नई दिल्ली. देश में कोरोना वैक्सीन लगाने का अभियान शुरू हो चुका है। एम्स में सफाई कर्मचारी मनीष कुमार को पहली वैक्सीन लगी। वैक्सीन लगवाने के बाद आधे घंटे तक उन्हें वेटिंग रूम में रखा गया। मनीष ने कहा कि वैक्सीन लगवाने के बाद मेरे मन में जो डर था वह निकल गया। वैक्सीन लगाने के दौरान केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन भी मौजूद थे।

"मेरा अनुभव बहुत ही अच्छा रहा"
मनीष कुमार ने कहा, मेरा अनुभव बहुत ही अच्छा रहा है, मेरे मन में जो डर था वो निकल गया। लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है। वैक्सीन सबको लगवानी चाहिए। 

एम्स के निदेशक को वैक्सीन के बाद कैसा लगा?
एम्स के निदेशक रणदीप गुलेरिया को भी पहले दिन वैक्सीन लगाई गई। उन्होंने कहा, मुझे बहुत गर्व महसूस हो रहा है क्योंकि मुझे वैक्सीन लगी। मैं उम्मीद करता हूं कि जब लोगों की वैक्सीन लगवाने की बारी आए तो ज्यादा से ज्यादा लोग आगे आएं ताकि हम मृत्यु दर को कम कर सकें और संक्रमण को फैलने से रोक पाएं।

दिल्ली स्टेट कैंसर इंस्टिट्यूट में डॉ. प्रज्ञा शुक्ला को कोरोना वैक्सीन लगाई गई। वैक्सीन लगवाने के बाद उन्होंने कहा, बिल्कुल नॉर्मल लग रहा है। कोई दिक्कत नहीं है। हां आधे घंटे तक इंतजार करना मुश्किल था, लेकिन बाकी और कोई दिक्कत नहीं हुई। उन्होंने कहा कि पिछले साल कोरोना का बहुत ही बुरा दौर था।