Asianet News Hindi

सचिन वाजे का बिगड़ा स्वास्थ्य, सीने में दर्द और हार्ट ब्लॉकेज, NIA कोर्ट ने मांगी मेडिकल रिपोर्ट

एनआईए कोर्ट ने मुंबई पुलिसे के पूर्व ऑफिसर सचिन वाजे की मेडिकल रिपोर्ट मांगी है। सचिन वाजे के वकील ने कोर्ट में आवेदन दिया था कि उन्हें सीने में दर्द और हार्ट ब्लॉकेज की समस्या रहती है। इसके बाद NIA कोर्ट ने वाजे की मेडिकल रिपोर्ट में मांगी है। 

mansukh hiren murder and antillia case update Sachin waze has Health Issue NIA Court Seeks Medical report KPY
Author
New Delhi, First Published Apr 3, 2021, 1:22 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. एनआईए कोर्ट ने मुंबई पुलिसे के पूर्व ऑफिसर सचिन वाजे की मेडिकल रिपोर्ट मांगी है। सचिन वाजे के वकील ने कोर्ट में आवेदन दिया था कि उन्हें सीने में दर्द और हार्ट ब्लॉकेज की समस्या रहती है। इसके बाद NIA कोर्ट ने वाजे की मेडिकल रिपोर्ट में मांगी है। सिचन वाजे एंटीलिया केस और मनसुख हिरेन मर्डर केस का मुख्य आरोपी है। एनआईए ने 13 मार्च को उसे गिरफ्तार किया था। शनिवार को ही उसकी कस्टडी खत्म हो रही है। 

सचिन वाजे के हार्ट में 90% के दो ब्लॉकेज हैं 

सचिन वाजे के वकील रौनक नाईक ने अदालत को एक एप्लीकेशन लिखी है। इसमें उन्होंने कहा है कि सचिन वाजे को सीने में दर्द के साथ-साथ हार्ट में 90% के दो ब्लॉकेज भी हैं। इसलिए, वाजे को उनके कार्डियोलॉजिस्ट से मिलवाया जाए, ताकि उनका मेडिकल ट्रीटमेंट कोर्स शुरू हो सके। इसके बाद कोर्ट ने वाजे की मेडिकल रिपोर्ट मांगी है। इन रिपोर्ट्स को तब देखा जाएगा, जब वाजे को आज NIA कोर्ट में पेश किया जाएगा।

NIA को मिल सकती है एक महीने की कस्टडी 

NIA ने सचिन वाजे के खिलाफ अनलॉफुल एक्टिविटीज (प्रीवेन्शन) एक्ट यानी UAPA की कई धाराएं भी लगाई हैं। इससे अब NIA को वाजे की 30 दिन की कस्टडी मांगने का अधिकार मिल जाता है, जबकि IPC की धाराओं में एक बार में सिर्फ 14 दिन के लिए ही कस्टडी मिलती है। इसके अलावा UAPA के तहत जांच एजेंसी 180 दिन में चार्जशीट दाखिल कर सकती है, लेकिन IPC में ये टाइम लिमिट 90 दिन की ही है।

ये है पूरा मामला 

दरअसल, 25 फरवरी को उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया के घर के बाहर एक स्कॉर्पियो खड़ी मिली थी। इस कार में 20 जिलेटिन (विस्फोटक) की छड़ें बरामद की गई थीं। साथ ही एक धमकी भरी चिट्ठी भी मिली थी। घटना के अगले दिन यानी 26 फरवरी को पता चला कि इस स्कॉर्पियो का मालिक मनसुख हिरेन हैं। लेकिन, उसने 17 फरवरी को ही कार चोरी की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। 6 मार्च को संदिग्ध हालात में मनसुख हिरेन की लाश मिली। शुरुआत में इसे आत्महत्या बताने की कोशिश हुई, लेकिन मनसुख हिरेन की पत्नी ने हत्या का आरोप लगाया। इस पूरे मामले की जांच NIA को सौंपी गई। 13 मार्च को NIA ने मुंबई पुलिस के पूर्व API सचिन वाजे को गिरफ्तार कर लिया। मनसुख हिरेन की हत्या और एंटीलिया केस में सचिन वाजे की भूमिका सामने आई है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios