वारंगल (तेलंगाना). तेलंगाना के वारंगल में एक कुएं से प्रवासी मजदूरों के 9 शव निकाले गए हैं। इन शवों में 1 शव बच्चे और 1 शव महिला का है। मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो यह सभी मजदूर बंगाल और बिहार के रहने वाले थे। पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज कर रिपोर्ट दर्ज कर ली है। 

कोल्ड स्टोरेज में काम करते थे श्रमिक
पुलिस के मुताबिक, वारंगल के ग्रामीण इलाके का मामला है। पुलिस को खबर मिली कि गीसुगोंडा मंडल के गोर्टेकुंटा इंडस्ट्रियल एरिया में बने एक कुएं के अंदर प्रवासी श्रमिकों के शव पड़े हैं। पुलिस के मुताबिक ये सभी श्रमिक वहां एक कोल्ड स्टोरेज में काम करते थे। 

7 पश्चिम बंगाल और 2 बिहार के रहने वाले थे
पुलिस के मुताबिक, मृतकों में 7 पश्चिम बंगाल और 2 बिहार के रहने वाले थे। सभी तेलंगाना में कमाने के लिए आए हुए थे। लॉकडाउन में काम बंद होने से परेशान थे। वे अपने गांव जाना चाहते थे, लेकिन अचानक लापता हो गए। 

कैसे हुई मजदूरों की मौत?
पुलिस स्थानीय लोगों से पूछताछ कर रही है। हालांकि अभी तक इस बात की जानकारी नहीं मिल सकी है कि मजदूरों की मौत कैसे हुई? आखिर वे घर जाना चाहते थे तो फिर अचानक गायब कैसे हो गए, एक ही कुएं में 9 लोग गिरे? पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।