Asianet News HindiAsianet News Hindi

MLA डंग के फैसले से कांग्रेस दंग, लापता होने के 3 दिन बाद दिया इस्तीफा, कमलनाथ सरकार पर संकट के बादल

तीन दिन से लापता विधायक हरदीप सिंह डंग ने अपना इस्तीफा स्पीकर एनपी प्रजापति और सीएम कमलनाथ को भेजा है। जिसके बाद मध्यप्रदेश में कमलनाथ सरकार की मुश्किलें बढ़ गई हैं। इसके साथ ही कयास लगाए जा रहे हैं कि कुछ और विधायक भी अपने पद से इस्तीफा दे सकते हैं। 
 

MLA Hardeep Singh Dung resigns as MLA, troubled Kamal Nath government madhya pradesh news and updates kps
Author
Bhopal, First Published Mar 6, 2020, 7:51 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

भोपाल. मध्य प्रदेश में जारी सियासी नाटक ने एक बार फिर जोर पकड़ लिया है। कमलनाथ सरकार के लापता 4 विधायकों में से एक विधायक हरदीप सिंह डंग ने अपना इस्तीफा स्पीकर एनपी प्रजापति और सीएम कमलनाथ को भेजा है। गौरतलब है कि डंग तीन दिन से लापता थे। अपने इस्तीफे में डंग ने लिखा कि वे अपने विधानसभा क्षेत्र की अनदेखी से दुखी हैं। "न मैं कमलनाथ गुट का हूं, न दिग्विजय सिंह और न ही सिंधिया गुट का हूं। मैं सिर्फ कांग्रेस का कार्यकर्ता हूं। इसलिए मुझे परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।" सूत्रों का कहना है कि अभी कुछ और विधायक भी इस्तीफा दे सकते हैं।

कर्जमाफी के तरीके से थे परेशान 

मंदसौर के सुवासरा से दूसरी बार विधायक बने हरदीप सिंह डंग ने इस्तीफे में लिखा, "सरकार बनने के 14 महीने बीतने के बाद भी मेरे विधानसभा क्षेत्र की उपेक्षा की जा रही है। मंत्री काम करने के लिए तैयार नहीं हैं। दलाल और भ्रष्टाचारी सरकार में बैठे हैं।" करीबियों की मानें तो डंग सरकार के मुआवजा वितरण के तरीके को लेकर नाराज थे। 19 फरवरी को सीतामऊ में हुए कर्जमाफी के दूसरे चरण के सम्मेलन में भी प्रभारी मंत्री हुकुमसिंह कराड़ा की मौजूदगी में ही डंग ने ऐलान किया था कि किसानों की समस्याएं नहीं सुनी जा रही हैं और इसके लिए मंदसौर में बड़ा आंदोलन किया जाएगा। डंग ने कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने का भी समर्थन किया था।

MLA Hardeep Singh Dung resigns as MLA, troubled Kamal Nath government madhya pradesh news and updates kps

लापता हैं ये विधायक 

कांग्रेस के लापता 9 विधायकों में से 5 विधायक वापस आ गए। लेकिन  कांग्रेस के बिसाहूलाल, हरदीप सिंह डंग, रघुराज कंसाना और निर्दलीय सुरेंद्र सिंह शेरा की लोकेशन अभी भी नहीं मिल रहे हैं। वहीं, चर्चा जोरों पर है कि कांग्रेस के और विधायक भी विधायकी से इस्तीफा दे सकते हैं। जिसको रोकने के लिए कमलनाथ और अन्य पार्टी दिग्गज तमाम कोशिशें कर रहे हैं। 

मुझे व्यक्तिगत तौर पर नहीं सौंपा इस्तीफा 

डंग के इस्तीफे की खबर के बाद विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति ने कहा- मुझे सुवासरा विधायक हरदीप सिंह ढंग के इस्तीफा देने की खबर मिली है। उन्होंने मुझसे व्यक्तिगत तरीके से मिलकर इस्तीफा नहीं सौंपा है। जब वे प्रत्यक्ष रूप से मुझसे मिलकर इस्तीफा सौपेंगे तो मैं नियमानुसार उस पर विचार कर कदम उठाऊंगा। 

सीएम ने कहा, नहीं मिला त्याग पत्र 

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा- हरदीप सिंह ढंग हमारी पार्टी के विधायक हैं। उनके इस्तीफा देने की खबर मिली है। लेकिन, मुझे अभी तक उनका इस संबंध में ना तो कोई पत्र प्राप्त हुआ है, ना उन्होंने मुझसे अभी तक इस संबंध में कोई चर्चा की है और ना प्रत्यक्ष मुलाकात की है। जब तक मेरी उनसे इस संबंध में चर्चा नहीं हो जाती, तब तक इस बारे में कुछ भी कहना ठीक नहीं होगा।
 
जन्मदिन के बाद से लापता हैं डंग 

सुवासरा विधायक डंग का 2 मार्च को जन्मदिन था। वे इस दिन सुबह से शाम तक सुवासरा व शामगढ़ में कार्यक्रमों में शामिल हुए। शाम छह बजे हमेशा की तरह मां के पैर छूकर पत्नी से बोले कि दौरे पर जाकर आता हूं। उसके बाद से उनका मोबाइल बंद है। जिसके बाद 4 विधायकों के साथ वह भी लापता है। 

Image result for मध्यप्रदेश में कांग्रेस विधायक का इस्तीफा

(यह तस्वीर बेंगलुरू के होटल पॉम मेडोज की बताई जा रही है। जहां लापता चल रहे चारों विधायक एक साथ दिखाई दिए।)

3 तारीख से जारी है सियासी नाटक 

मध्य प्रदेश में सियासी ड्रामा मंगलवार सुबह दिग्विजय सिंह के ट्वीट के साथ शुरू हुआ। उन्होंने भाजपा पर विधायकों को खरीदने का आरोप लगाया। इसके बाद मंगलवार शाम पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह दिल्ली पहुंचे तो सियासी पारा में और उफान आ गया। कांग्रेस ने इसी दिन देर रात दावा किया कि भाजपा ने कांग्रेस के 6, बसपा के 2 और एक निर्दलीय विधायक को गुड़गांव के आईटीसी मराठा होटल में बंधक बनाया। 

इसकी भनक लगने के बाद कांग्रेस हाईकमान ने अपने दो मंत्रियों जीतू पटवारी और जयवर्धन सिंह को विधायकों को वापस लाने के लिए दिल्ली भेजा। दोनों मंत्री स्पेशल विमान से दिल्ली रवाना हुए और विधायकों को वापस लाने की कोशिश में लग गए। इस दौरान सिर्फ बसपा से निष्कासित पथरिया विधायक रामबाई ही होटल के बाहर मिलीं। 

मध्य प्रदेश में मौजूदा विधायकों की स्थिति

पार्टी सीटें
कांग्रेस 112
भाजपा 107
बसपा     02
सपा   01
निर्दलीय     04

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios