Asianet News HindiAsianet News Hindi

राष्ट्रीय युवा महोत्सव पर बोले PM मोदी-'पूरी दुनिया के यूनिकॉर्न इकोसिस्टम में भारतीय युवाओं का जलवा है'

12 जनवरी को स्वामी विवेकानंद की जयंती पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी(Prime Minister Shri Narendra Modi) ने 25th Youth Festival का VC के जरिये उद्घाटन किया। यह कार्यक्रम पुडुचेरी में हुआ। स्वामी विवेकानंद की जयंती होने के कारण इस दिन को राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में मनाया जाता है। 

Modi address at the 25th Youth Festival on the birth anniversary of Swami Vivekananda KPA
Author
New Delhi, First Published Jan 12, 2022, 7:18 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. 12 जनवरी को स्वामी विवेकानंद की जयंती यानी राष्ट्रीय युवा दिवस पर आयोजित 25वें राष्ट्रीय युवा महोत्सव( 25th National Youth Festival) का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी(Prime Minister Shri Narendra Modi) ने किया। मोदी सुबह 11 बजे पुडुचेरी में वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कार्यक्रम को संबोधित कर रहे हैं। इस महोत्सव का उद्देश्य भारत के युवाओं की बौद्धिक क्षमताओं को सही दिशा में बढ़ाते हुए उन्हें राष्ट्र निर्माण के लिए एक संयुक्त शक्ति में बदलना है। यह सामाजिक एकता और बौद्धिक और सांस्कृतिक एकीकरण में सबसे बड़े अभ्यासों में से एक है। इसका उद्देश्य भारत की विविध संस्कृतियों को लाना और उन्हें 'एक भारत, श्रेष्ठ भारत' के एक सूत्र में जोड़ना है। सबसे पहले मोदी ने कहा-हम इसी वर्ष श्री ऑरबिंदो की 150वीं जयंती मना रहे हैं और इस साल महाकवि सुब्रमण्य भारती जी की भी 100वीं पुण्य तिथि है। इन दोनों मनीषियों का, पुदुचेरी से खास रिश्ता रहा है। ये दोनों एक दूसरे की साहित्यिक और आध्यात्मिक यात्रा के साझीदार रहे हैं।

भारत युवा है
मोदी ने कहा-आज भारत भारत को आशा की नजर से देख रहा है क्योंकि भारत के लोग, दिमाग, क्षमता और सपने सभी युवा हैं। भारत युवा है क्योंकि भारत के विजन ने हमेशा आधुनिकीकरण को स्वीकार किया है। आज भारत के युवा में अगर टेक्नालजी का चार्म है, तो लोकतंत्र की चेतना भी है। आज भारत के युवा में अगर श्रम का सामर्थ्य है, तो भविष्य की स्पष्टता भी है। इसीलिए, भारत आज जो कहता है, दुनिया उसे आने वाले कल की आवाज़ मानती है। भारत के युवाओं के पास डेमोग्राफिक डिविडेंड के साथ साथ लोकतांत्रिक मूल्य भी हैं, उनका डेमोक्रेटिक डिविडेंड भी अतुलनीय है।

भारत के पास दो असीम शक्तियां
भारत अपने युवाओं को डेमोग्राफिक डिविडेंड के साथ साथ डवलपमेंट ड्राइवर भी मानता है। विश्व ने इस बात को माना है कि आज भारत के साथ दो असीम शक्तियां हैं। 1- डेमोग्राफी 2- डेमोक्रेसी। जिस देश के पास जितनी युवा जनसंख्या है उसके सामर्थ्य को उतना ही बड़ा माना जाता है।

भारत जो सपने देखता है
आज भारत जो सपने देखता है, संकल्प लेता है उसमें भारत के साथ-साथ विश्व का भविष्य दिखाई देता है। भारत के इस भविष्य का, दुनिया के भविष्य का निर्माण आज हो रहा है। आज भारत के युवा में अगर टेक्नालजी का चार्म है, तो लोकतंत्र की चेतना भी है। आज भारत के युवा में अगर श्रम का सामर्थ्य है, तो भविष्य की स्पष्टता भी है। इसीलिए, भारत आज जो कहता है, दुनिया उसे आने वाले कल की आवाज़ मानती है।

बेटियां अपना करियर बनाएं
हम मानते हैं कि बेटे-बेटी एक समान हैं। इसी सोच के साथ सरकार ने बेटियों की बेहतरी के लिए शादी की उम्र को 21 साल करने का निर्णय लिया है।  बेटियां अपना करियर बना पाएं, उन्हें ज्यादा समय मिले, इस दिशा में ये एक बहुत महत्वपूर्ण कदम है।

भारतीय युवाओं का जलवा
आज भारत का युवा, Global Prosperity के Code लिख रहा है। पूरी दुनिया के यूनिकॉर्न इकोसिस्टम में भारतीय युवाओं का जलवा है। भारत के पास आज 50 हज़ार से अधिक स्टार्ट अप्स का मजबूत इकोसिस्टम है। बता दें कि वेंचर कैपिटल की दुनिया में यूनिकॉर्न(Unicorn) का मतलब ऐसी कंपनी से है, जिसकी वैल्युएशन 1 बिलियन डॉलर से अधिक हो। 

https://t.co/wMNozreqkx

कोविड के कारण युवा उत्सव इस बार सिर्फ वर्चुअली होगा
इस वर्ष कोविड की उभरती स्थिति(Covid situation) को देखते हुए महोत्सव का आयोजन 12-13 जनवरी को है। कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री ने मेरे सपनों का भारत और भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के गुमनाम नायकों(Unsung Heroes of Indian Freedom Movement) पर चयनित निबंधों का अनावरण किया। इन निबंधों को दो विषयों पर 1 लाख से अधिक युवाओं द्वारा प्रस्तुतियों से चुना गया है।

इस दौरान प्रधानमंत्री ने लगभग 122 करोड़ रुपए  के निवेश से पुडुचेरी में स्थापित एमएसएमई मंत्रालय के एक प्रौद्योगिकी केंद्र का भी उद्घाटन किया। इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम डिजाइन एंड मैन्युफैक्चरिंग (ईएसडीएम) सेक्टर पर फोकस के साथ यह टेक्नोलॉजी सेंटर नवीनतम तकनीक से लैस है। यह युवाओं को कुशल बनाने में योगदान देगा और प्रति वर्ष लगभग 6400 प्रशिक्षुओं को प्रशिक्षित करने में सक्षम होगा। प्रधानमंत्री ने लगभग 23 करोड़ रुपये की लागत से पुडुचेरी सरकार द्वारा निर्मित ओपन एयर थिएटर के साथ एक सभागार - पेरुन्थालाइवर कामराजर मणिमंडपम का भी उद्घाटन किया। यह मुख्य रूप से शैक्षिक उद्देश्यों के लिए उपयोग किया जाएगा, और इसमें 1000 से अधिक लोग बैठ सकते हैं। 

माेदी ने किया था tweet

इस संबंध में मोदी ने एक tweet करते हुए लिखा था-12 तारीख को मैं 25वें राष्ट्रीय युवा महोत्सव में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से भाग लूंगा। अपने युवा मित्रों को कार्यक्रम में शामिल होने के लिए कहने के अलावा उनसे उनके इनपुट साझा करने का आग्रह करता हूं। भारत के प्रतिभाशाली युवाओं को सुनकर हमेशा खुशी होती है।

तमिलनाडु को मेडिकल कॉलेज
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए 12 जनवरी को तमिलनाडु में 11 नए सरकारी मेडिकल कॉलेजों (medical colleges) और सेंट्रल इंस्टीट्यूट ऑफ क्लासिकल तमिल, चेन्नई के नए कैंपस का उद्घाटन करेंगे। पीएमओ (PMO) ने यह जानकारी दी है। पीएमओ के अनुसार, नए मेडिकल कॉलेज लगभग 4,000 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से स्थापित किए जा रहे हैं, जिनमें से लगभग 2,145 करोड़ रुपये केंद्र सरकार और बाकी तमिलनाडु (Tamil Nadu) सरकार द्वारा प्रदान किए गए हैं। कार्यक्रम शाम 4 बजे होगा।

यह भी पढ़ें
PM security breach:पुलिस को पता था प्लान, किसान नहीं कट्टरपंथी कर रहे थे विरोध, पास में खुली थी शराब की दुकान
India-US पर्यावरण व जलवायु परिवर्तन पर करेंगे साथ काम, यूएस जलवायु दूत John Kerry जल्द आ रहे इंडिया
Global economic report में वैश्विक मंदी का अंदेशा, भारत की आर्थिक वृद्धि 2022-23 में 8.7% रहने की उम्मीद

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios