Asianet News Hindi

क्या रिया ने बोला बड़ा झूठ? भाजपा नेता ने कहा, 8 नहीं 13 जून को रिया-सुशांत की हुई थी आखिरी मुलाकात

सुशांत सिंह राजपूत केस में मुंबई के भाजपा नेता ने बड़ा आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि 13 जून को सुशांत सिंह राजपूत और रिया चक्रवर्ती की मुलाकात हुई थी। भाजपा मुंबई सचिव एडवोकेट विवेकानंद गुप्ता ने कहा है कि उन्हें 13 तारीख को हुई कथित सुशांत-रिया मुलाकात के बारे में जानकारी है। उन्होंने कहा कि कुछ प्रत्यक्षदर्शियों ने उन्हें बताया कि सुशांत और रिया को सुबह 3 बजे मुलाकात करते हुए देखा था। फिर सुशांत ने रिया को उनके घर छोड़ दिया।

Mumbai BJP leader said Sushant and Riya last met on June 13 not 8 kpn
Author
Mumbai, First Published Oct 1, 2020, 6:53 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली/मुंबई. सुशांत सिंह राजपूत केस में मुंबई के भाजपा नेता ने बड़ा आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि 13 जून को सुशांत सिंह राजपूत और रिया चक्रवर्ती की मुलाकात हुई थी। भाजपा मुंबई सचिव एडवोकेट विवेकानंद गुप्ता ने कहा है कि उन्हें 13 तारीख को हुई कथित सुशांत-रिया मुलाकात के बारे में जानकारी है। उन्होंने कहा कि कुछ प्रत्यक्षदर्शियों ने उन्हें बताया कि सुशांत और रिया को सुबह 3 बजे मुलाकात करते हुए देखा था। फिर सुशांत ने रिया को उनके घर छोड़ दिया। 

"13 जून को बड़े नेता का जन्मदिन था"
विवेकानंद गुप्ता ने यह भी कहा है कि वह केंद्रीय जांच एजेंसी के सामने अपना पक्ष रखने के लिए तैयार हैं। उन्होंने बताया कि 13 जून की रात एक बड़े राजनेता का जन्मदिन था और एक अन्य राजनेता ने भी ट्वीट किया है कि लॉकडाउन में पार्टी कैसे हो सकती है? इसका मतलब है कि मंत्री जानते हैं कि एक पार्टी थी और सभी मौजूद थे।

सुबह 3 बजे सुशांत ने रिया को उनके घर छोड़ा
प्रत्यक्षदर्शी ने मुझे बताया कि सुबह 2 से 3 बजे के आसपास सुशांत रिया को उनके घर छोड़ने गए थे।  इसलिए यह कहना कि रिया और सुशांत की मुताबिक 8 जून को ही हुई थी यह गलत है। 

14 तारीख को सुशांत की हत्या कर दी गई
14 तारीख की सुबह सुशांत की हत्या कर दी गई। मैंने हर चीज के बारे में ट्वीट किया है, इसलिए जांच एजेंसियों को इस एंगल को देखना चाहिए। जब ​​भी सीबीआई मुझे बुलाएगी, मैं जाऊंगा और गवाह की पहचान भी करूंगा। मैं मुंबई पुलिस को को कोई जानकारी नहीं दूंगा।

उन्होंने कहा, कूपर अस्पताल ने बहुत कम रोशनी में पोस्टमार्टम किया था, जिससे पता चलता है कि वे कुछ छिपाने की कोशिश कर रहे थे। ऐसा लगता है कि कोई साजिश है और यह किसी दबाव में किया गया होगा।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios