Asianet News HindiAsianet News Hindi

2021 में ट्रैफिक हादसों में गई 1.73 लाख लोगों की जान, मौत के मामले में सबसे आगे रहा उत्तर प्रदेश

राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो के आंकड़े के अनुसार 2020 की तुलना में 2021 में यातायात से जुड़े हादसों में अधिक लोगों की मौत हुई है। 2021 में 1,73,860 लोगों की मौत ट्रैफिक हादसों के चलते हो गई। सबसे अधिक मौतें उत्तर प्रदेश में हुईं।
 

National Crime Records Bureau 1.73 lakh die in traffic accidents in India in 2021 vva
Author
First Published Aug 29, 2022, 5:01 PM IST

नई दिल्ली। 2021 में देशभर में करीब 4.22 लाख ट्रैफिक हादसे हुए। इन हादसों में 1.73 लाख लोगों की मौत हो गई। ट्रैफिक हादसे से मौत के मामले में उत्तर प्रदेश सबसे आगे रहा। यहां के 24,711 लोगों ने दुर्घटना के चलते अपनी जान गंवा दी। दूसरे नंबर पर तमिलनाडु रहा। यहां एक साल में हादसों में 16,685 लोगों की मौत हुई। 

राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (NCRB) के लेटेस्ट रिपोर्ट के अनुसार भारत में ट्रैफिक हादसों की संख्या में वृद्धि हुई है। 2020 में हादसे की 3,68,828 घटनाएं रिपोर्ट की गईं थीं। 2021 में हादसों की 4,22,659 घटनाएं रिपोर्ट की गईं। 2021 में हुए 4,22,659 ट्रैफिक हादसों में 4,03,116 सड़क हादसे, 17,993 रेलवे हादसे और 1,550 रेलवे क्रॉसिंग हादसे शामिल हैं। 

तमिलनाडु में बढ़ी हादसों की संख्या
2020 की तुलना में 2021 में हादसों की संख्या सबसे अधिक तमिलनाडु में बढ़ी। यहां 2020 में 46,443 और 2021 में 57,090 हादसे हुए। इसी तरह मध्य प्रदेश में 2020 में 43,360 और 2021 में 49,493 हादसे हुए। उत्तर प्रदेश में 2020 में 30,593 और 2021 में 36,509 हादसे हुए। महाराष्ट्र में 2020 में 24,908 और 2021 में 30,086 हादसे हुए। केरल में 2020 में 27,998 और 2021 में 33,051 हादसे हुए। 

ट्रैफिक हादसों में गई 1,73,860 लोगों की जान
रिपोर्ट के अनुसार 2021 में ट्रैफिक हादसों में देशभर में 1,73,860 लोगों की मौत हो गई और 3,73,884 लोग घायल हो गए। उत्तर प्रदेश में सबसे अधिक 24,711 लोगों की मौत हुई। दूसरे नंबर पर तमिलनाडु रहा। यहां के 16,685 लोगों की मौत हुई। वहीं, महाराष्ट्र के 16,446 लोगों की मौत हुई। 2020 की तुलना में 2021 में हादसों में मौत के मामले 18.8 फीसदी बढ़े।

यह भी पढ़ें- झारखंड में 17 साल की लड़की पर पेट्रोल छिड़कर लगा दी आग, मौत के बाद तनाव, धारा 144 लागू, सरकार ने मानी गलती

आमतौर पर देखा जाता है कि सड़क हादसों में घायलों की संख्या मृतकों की संख्या से अधिक होती है,लेकिन मिजोरम, पंजाब, झारखंड और उत्तर प्रदेश में इससे विपरीत स्थिति देखने को मिली। 2021 में मिजोरम में 64 सड़क हादसे हुए, जिसमें 64 लोगों की मौत हुई और 28 घायल हुए। पंजाब में 6,097 सड़क हादसे हुए, जिससे 4,516 लोगों की मौत हुई और 3,034 घायल हुए। झारखंड में 4,728 सड़क हादसे हुए, जिससे 3,513 लोगों की मौत हुई और 3,227 लोग घायल हुए। उत्तर प्रदेश में 33,711 सड़क हादसे हुए, जिससे 21,792 लोगों की मौत हुई और 19,813 घायल हुए।

यह भी पढ़ें- इस पहाड़ी राज्य में हर साल मानसून लाता है मौत का खौफ: 5 साल में 1,550 लोग मारे गए , 6,537.39 करोड़ का नुकसान

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios