Asianet News Hindi

हां मैं भाजपा-RSS के साथ...शिवसेना कार्यकर्ताओं ने जिस बुजुर्ग को पीटा था, उन्होंने राज्यपाल से मुलाकात की

उद्धव ठाकरे का कार्टून शेयर पर शिवसेना कार्यकर्ताओं ने जिस एक्स नेवी ऑफिसर को पीटा था, उन्होंने मंगलवार को महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की और न्याय की मांग की। एक्स नेवी ऑफिसर मदन शर्मा ने कहा कि उद्धव ठाकरे को हटाकर महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगा देना चाहिए।  

Navy officer who was beaten up by Shiv Sena workers in Mumbai met the Governor kpn
Author
Mumbai, First Published Sep 15, 2020, 3:23 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. उद्धव ठाकरे का कार्टून शेयर पर शिवसेना कार्यकर्ताओं ने जिस एक्स नेवी ऑफिसर को पीटा था, उन्होंने मंगलवार को महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की और न्याय की मांग की। एक्स नेवी ऑफिसर मदन शर्मा ने कहा कि उद्धव ठाकरे को हटाकर महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगा देना चाहिए। उनके ऊपर भाजपा में होने का आरोप लगाकर पीटा गया था। लेकिन अब आज से वह भाजपा और आरएसएस के साथ हैं।

राज्यपाल ने कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया
मदन शर्मा ने राज्यपाल को बताया कि उनके ऊपर जानलेवा हमला करने वाले आरोपियों के खिलाफ लगाई गई धाराएं कमजोर हैं। मदन शर्मा ने बताया कि राज्यपाल ने कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

मदन शर्मा ने साफ शब्दों में कह दिया कि मैं भाजपा और आरएसएस के साथ हूं। इससे पहले मदन शर्मा ने कहा था कि मैं घायल हूं और तनाव में हूं। जो हुआ, वह बेहद निराश करने वाला है। मैं उद्धव ठाकरे से साफ कहना चाहूंगा कि अगर आपसे कानून-व्यवस्था नहीं संभल रही तो इस्तीफा दे दें। लोगों को तय करने दें कि वो ये जिम्मेदारी किसे देना चाहेंगे।

मुंबई पुलिस ने 6 लोगों को किया था गिरफ्तार
मुंबई पुलिस ने शुक्रवार को 6 लोगों को गिरफ्तार किया, उसमें एक शिवसेना कार्यकर्ता कमलेश कदम भी था। आरोप है कि इन लोगों ने कांदिवली इस्ट में एक्स नेवी ऑफिसर से मारपीट की। एक्स नेवी ऑफिसर ने प्रदेश के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का एक कार्टून शेयर कर दिया था। 

धमकी भरे कॉल भी आए थे
एफआई के मुताबिक, 65 साल के एक्स नेवी ऑफिसर ने शिकायत दर्ज कराई है। उन्होंने बताया कि मैंने सोसाइटी के व्हाट्सएप ग्रुप में उद्धव ठाकरे का एक कार्टून फॉरवर्ड कर दिया था। इसके बाद उन्हें शिवसेना कार्यकर्ता कमलेश कदम का फोन आया। उसने नाम और पता पूछा। मदन शर्मा ने कहा, व्हाट्सएप पर एक मैसेज भेजने के बाद उन पर हमला किया गया।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios