Asianet News Hindi

जो लोग कहते हैं कि पीएम ने देर से कोरोना के खिलाफ जंग छेड़ी, उनको इस मंत्री का जवाब

 केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने बुधवार को कोरोना वायरस को लेकर अहम जानकारी दी। उन्होंने बताया, भारत उन देशों में है, जिसने कोरोना वायरस के पहले केस के बारे में जानकारी मिलते ही कदम उठाया। उन्होंने बताया कि 7 जनवरी को चीन में कोरोना के पहले संक्रमित की पहचान हुई थी। 

next 2-3 weeks are most crucial in handling COVID19 in India, Dr Harsh Vardhan
Author
New Delhi, First Published Apr 15, 2020, 6:17 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
नई दिल्ली. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने बुधवार को कोरोना वायरस को लेकर अहम जानकारी दी। उन्होंने बताया, भारत उन देशों में है, जिसने कोरोना वायरस के पहले केस के बारे में जानकारी मिलते ही कदम उठाया। उन्होंने बताया कि 7 जनवरी को चीन में कोरोना के पहले संक्रमित की पहचान हुई थी। भारत सरकार ने 8 जनवरी को ही इसे लेकर एक्सपर्ट के साथ मीटिंग की थी। 17 जनवरी को इसके बारे में हेल्थ एडवाइजरी भी जारी कर दी गई थी। 
डॉ हर्षवर्धन ने बताया, भारत में करीब 400 जिले हैं, जहां कोरोना वायरस नहीं पहुंचा। हम उन सभी जगहों की पहचान करने में सफल हुए हैं, जहां तक वायरस पहुंचा है। उन्होंने कहा, भारत में कोरोना से निपटने के लिए अगले 2-3 हफ्ते काफी अहम हैं।
 
बिहार में परेशानी नहीं
डॉ हर्षवर्धन ने कहा, बिहार में ज्यादा परेशानी नहीं है। लेकिन महाराष्ट्र खासकर मुंबई में थोड़ी समस्या है। ऐसा ही हाल कर्नाटक में भी है। लेकिन मैं राज्य के सचिवों का आत्मविश्वास देखकर खुश हूं, खासकर महाराष्ट्र के। महाराष्ट्र के सचिव ने कहा, हम इस स्थिति को संभाल लेंगे। 

भारत में कोरोना की स्थिति
भारत में कोरोना संक्रमण के अब तक 11600 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। वहीं, 390 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। अब तक 1300 लोग ठीक हो चुके हैं। कोरोना को फैलने से रोकने के लिए 25 मार्च को 21 दिनों का लॉकडाउन लगाया गया था। यह 14 अप्रैल को खत्म होना था। लेकिन अब इसे 3 मई तक बढ़ा दिया गया है।
Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios