Asianet News HindiAsianet News Hindi

PM-GKAY: मोदी ने 5 अगस्त को बताया ऐतिहासिक दिन, हॉकी, धारा 370 और राम मंदिर का दिया उदाहरण

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज PM Garib Kalyan Anna Yojanaसे जुड़े यूपी के लाभार्थियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये बातचीत की। इस मौके पर योगी आदित्यनाथ भी जुड़े थे। 

PM Garib Kalyan Anna Yojana: PM will talk to the beneficiaries of UP
Author
New Delhi, First Published Aug 5, 2021, 12:05 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. देश के गरीबों को अन्न उपलब्ध कराने के मकसद से शुरू की गई PM Garib Kalyan Anna Yojana से जुड़े उत्तर प्रदेश के लाभार्थियों से आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संवाद किया। इससे पहले यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने tweet करके बताया कि अंत्योदय के संकल्प को साकार करती इस योजना से प्रदेश के लगभग 15 करोड़ नागरिक लाभान्वित हो रहे हैं। हर नागरिक हेतु खाद्यान्न व्यवस्था की सुनिश्चितता हमारा प्रण है। योगी ने लिखा-आज PM-GKAY के अंतर्गत उप्र में 80 हजार उचित मूल्य की दुकानों के माध्यम से जरूरतमंदों को निःशुल्क अन्न प्राप्त होगा। प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में यूपी सरकार-'कोई प्रदेशवासी भूखा ना रहे' संकल्प को साकार करने के लिए प्रतिबद्ध है। जानिए मोदी ने क्या कहा...

5 अगस्त को याद किया जाएगा
5 अगस्त को इतिहास में याद किया जाएगा। दो साल पहले आज ही के दिन जम्मू-कश्मीर से धारा 370 को खत्म किया गया था। पिछले साल इसी दिन अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की दिशा में पहला कदम उठाया गया था। आज भव्य राम मंदिर का निर्माण हो रहा है।

कोरोना के टीकाकरण पर जोर
पीएम नरेंद्र मोदी ने लाभार्थियों से आग्रह किया कि वे अधिक से अधिक लोगों को COVID19 के खिलाफ टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित करें और अफवाहों पर विश्वास न करें। मोदी ने यह कहा कि अत्यंत संतोष की बात है कि राज्य को भेजा गया एक-एक अनाज लाभार्थियों तक पहुंचता है। राज्य में जिस तरह से प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना लागू की जा रही है, वह नए उत्तर प्रदेश को परिभाषित करती है।

कृषि निर्यात में देश टॉप 10 में शामिल
मोदी ने कहा-आज़ादी के बाद पहली बार किसी एक महीनें में भारत का एक्सपोर्ट 2.5 लाख करोड़ से भी ज़्यादा हो गया। कृषि निर्यात में हम दशकों बाद हम दुनिया के टॉप 10 देशों में शामिल हुए हैं। देश का पहला मेड इन इंडिया विमानवाहक पोत 'विक्रांत' समंदर में अपना ट्रायल शुरू कर चुका है।

कोरोनाकाल में खेती और किसान
कोरोना काल में भी खेती और उससे जुड़े कामों को रुकने नहीं दिया गया, उन्हें पूरी सतर्कता के साथ जारी रखा गया। किसानों के लिए बीज, खाद्य और उपज बेचने की व्यवस्था की गई। इससे हमारे किसानों ने रिकॉर्ड उत्पादन किया और सरकार ने भी MSP पर खरीद के नए रिकॉर्ड स्थापित किए। योगी आदित्नाथ की सरकार ने बीते चार साल में MSP पर हर साल खरीद के नए रिकॉर्ड बनाए हैं। उत्तर प्रदेश में इस साल गेहूं और धान की खरीद में पिछले साल की तुलना में लगभग दोगुनी संख्या में किसानों को MSP का लाभ पहुंचा है। उत्तर प्रदेश में 13 लाख से अधिक किसान परिवारों को उनके उपज का लगभग 24,000 करोड़ रुपए सीधे उनके बैंक खाते में पहुंचाया गया है। केंद्र और उत्तर प्रदेश की डबल इंजन सरकार सामान्य जन की सुविधा और सशक्तिकरण के लिए निरंतर प्रयासरत है।

अन्य मुद्दों पर भी बोले मोदी
एक तरफ हमारा देश, हमारे युवा भारत के लिए नई सिद्धियां प्राप्त कर रहे हैं, जीत का गोल कर रहे हैं तो वहीं देश में कुछ लोग ऐसे भी हैं जो राजनीतिक स्वार्थ में सेल्फ गोल करने में जुटे हैं। देश क्या चाहता है, देश क्या हासिल कर रहा है, देश कैसे बदल रहा है इससे इनको कोई सरोकार नहीं। न्यू इंडिया रैंकों के माध्यम से नहीं, बल्कि पदक जीतकर वैश्विक पहचान प्राप्त कर रहा है। यह साबित हो चुका है कि किसी की तरक्की परिवार से नहीं मेहनत से तय होती है। भारतीय युवा आगे बढ़ रहा है। इस देश की 130 करोड़ आबादी हर चुनौती का सामना करेगी और आगे बढ़ेगी। ऐसे समय में जब देश नए कीर्तिमान स्थापित कर रहा था, दिल्ली में कुछ लोग संसद की कार्यवाही को बाधित करने की कोशिश कर रहे थे। कुछ लोग (विपक्ष) संसद की कार्यवाही को बाधित करने और देश के विकास को रोकने की कितनी भी कोशिश कर लें, हमारा देश इस तरह के स्वार्थ और राजनीति का बंधक नहीं बन सकता।

https://t.co/KmIS1pnee7

बता दें कि उत्तर प्रदेश पांच अगस्त को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना दिवस मना रहा है। इस अवसर पर पूरे राज्य में बड़े पैमाने पर जागरूकता कार्यक्रम चलाया जायेगा, ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि योजना का लाभ उठाने में कोई लाभार्थी पीछे न छूट जाए।

इससे पहले गुजरात के लाभार्थियों से बातचीत की थी
मोदी ने मंगलवार को गुजरात के लाभार्थियों से बातचीत की थी। मोदी ने कहा था-आज गुजरात के लाखों परिवारों को पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत एक साथ मुफ्त राशन वितरित किया जा रहा है। आज दुनियाभर में प्रधानमंत्री गरीब  कल्याण अन्न योजना की तारीफ हो रही है। आज जब 100 साल बाद कोरोना जैसी विपत्ति के कारण दुनिया के कई देशों में भुखमरी आई है, भारत में ऐसा नहीं हुआ। देश में कोई भूखा न रहे, ये लक्ष्य है।

यह भी पढ़ें-PM Garib Kalyan Anna Yojana: मोदी ने कहा- गरीबों को विश्वास है, चुनौती कितनी भी बड़ी हो; देश उनके साथ है

पांच महीने तक 81 करोड़ लोगों की फ्री मिलेगा 5 किलो राशन
जून में केंद्रीय कैबिनेट ने केंद्रीय कैबिनेट ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के चौथे चरण के लिए राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (NFSA) के लाभार्थियों को नवंबर तक अतिरिक्त खाद्यान्न के आवंटन को मंजूरी दी थी। यह फैसला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में यह फैसला लिया गया था। इस योजना के तहत, सरकार एनएफएसए (अंत्योदय अन्न योजना और प्राथमिकता वाले परिवारों) के तहत कवर किए गए अधिकतम 81.35 करोड़ लाभार्थियों को प्रति व्यक्ति हर महीने 5 किलो खाद्यान्न फ्री राशन देगी।

टीपीडीएस के तहत अधिकतम 81.35 करोड़ व्यक्तियों को पांच महीने के लिए प्रति माह प्रति माह 5 किलो अतिरिक्त खाद्यान्न की मंजूरी से 64,031 करोड़ रुपये की अनुमानित खाद्य सब्सिडी मिलेगी। भारत सरकार इस योजना के लिए राज्यों/केन्द्र-शासित प्रदेशों के बिना किसी भी योगदान के पूरे खर्च को वहन कर रही है। भारत सरकार द्वारा परिवहन एवं ढुलाई और एफपीएस डीलरों के लाभांश आदि के लिए लगभग 3,234.85 करोड़ रुपये का अतिरिक्त खर्च किया जाएगा।

भारत सरकार द्वारा वहन किया जाने वाला कुल अनुमानित व्यय 67,266.44 करोड़ रुपये होगा। इसमें कहा गया है कि गेहूं/चावल के रूप में आवंटन के बारे में खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण विभाग द्वारा तय किया जाएगा। खाद्यान्न के मामले में कुल निर्गम लगभग 204 लाख मीट्रिक टन हो सकता है।

पीएम मोदी ने की थी घोषणा
7 जून को देश को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने घोषणा की थी कि कोरोना संक्रमण के कारण गरीबों को तकलीफ ना हो इसलिए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना को दीपावली तक के लिए बढ़ाया जा रहा है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios