Asianet News Hindi

PM Modi ने संसदीय क्षेत्र का जाना हाल, बोले-बनारस के लोगों का पूरी संवेदनशीलता से हो इलाज

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को अपने संसदीय क्षेत्र बनारस में कोविड बचाव की समीक्षा की। वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए पीएम मोदी ने बनारस में कोरोना से बचाव तथा कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए टेस्टिंग, बेड, दवाइयों, वैक्सीन और मेडिकल मैन पाॅवर की उपलब्धता की जानकारी ली।

PM Modi review meeting of Varanasi, UP is top three corona infected state DHA
Author
New Delhi, First Published Apr 18, 2021, 9:50 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को अपने संसदीय क्षेत्र बनारस में कोविड बचाव की समीक्षा की। वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए पीएम मोदी ने बनारस में कोरोना से बचाव तथा कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए टेस्टिंग, बेड, दवाइयों, वैक्सीन और मेडिकल मैन पाॅवर की उपलब्धता की जानकारी ली। पीएम मोदी ने सबको मास्क पहने और दूसरों को भी इसके लिए प्रेरित करने की सलाह दी। पीएम ने कहा कि ‘दो गज की दूरी, मास्क है जरूरी‘ का पालन सभी लोगों को करना अनिवार्य होना चाहिए। 

वैक्सीनेशन अभियान पर विशेष जोर देने का निर्देश

पीएम मोदी ने वैक्सीनेशन अभियान के महत्त्व पर बल देते हुए कहा की प्रशासन 45 साल से ज्यादा की उम्र के सभी लोगों को जागरूक करे। लोगों का अधिक से अधिक वैक्सीनेशन कराए। 

बनारस के लोगों का पूरी संवेदनशीलता से हो इलाज

पीएम मोदी ने समीक्षा करते हुए प्रशासनिक अधिकारियों व डाॅक्टर्स से कहा कि वाराणसी के लोगों का संवेदनशीलता के साथ इलाज किया जाए, उनकी हर संभव मदद की जाए। किसी प्रकार की कोई नहीं होने पाए। प्रधानमंत्री ने बताया कि वाराणसी के प्रतिनिधि के रूप में वह आम जनता से भी निरंतर फीडबैक ले रहे हैं। उन्होंने बताया कि वाराणसी में पिछले 5-6 वर्षों में मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर के विस्तार और आधुनिकीकरण से कोरोना से लड़ने में सहायता मिली है। वाराणसी में बेड्स, आईसीयू और ऑक्सीजन की उपलब्धता को बढ़ाया जा रहा है। कहा कि जिस तरह वाराणसी प्रशासन ने तेजी के साथ ‘काशी कोविड रिस्पोन्स सेन्टर’ स्थापित किया है, वैसी ही तेजी हर कार्य में लायी जानी चाहिए।

टेस्ट, ट्रैक और ट्रीट पर हो जोर

प्रधानमंत्री ने ‘Rest-Track-Treat’ पर जोर देते हुए कहा कि first wave की तरह भी इस वायरस से जीतने के लिए यही रणनीति अपनानी होगी। उन्होंने संक्रमित व्यक्तियों की contact tracing और test reports को जल्द से जल्द उपलब्ध कराने पर भी बल दिया। उन्होंने home isolation में रह रहे मरीजों और उनके परिवार के प्रति भी सभी जिम्मेदारियों के संवेदनशील तरीके से निर्वहन का निर्देश दिया।

वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से वाराणसी क्षेत्र के जन प्रतिनिधियों और अधिकारियों ने प्रधानमंत्री को कोविड से बचाव तथा ईलाज हेतु क्षेत्र में की गयी तैयारियों की सूचना दी। इस सम्बन्ध में प्रधानमंत्री को कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग हेतु स्थापित कण्ट्रोल रूम, होम आइसोलेशन के लिए बनाये गए कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेंटर, डेडीकेटेड फोन लाईन एम्बुलेंस, कण्ट्रोल रूम से टेलीमेडिसीन की व्यवस्था, शहरी क्षेत्र में अतिरिक्त रैपिड रिस्पान्स टीम की तैनाती  आदि विषयों पर जानकारी दी गयी। प्रधानमंत्री को सूचित किया गया कि कोविड से बचाव के लिए अभी तक 198383 व्यक्तियों को प्रथम व 35014 व्यक्तियों को वैक्सीनेशन की दोनों डोज लग चुकी है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios