Asianet News Hindi

3 अक्टूबर को रोहतांग में दुनिया की सबसे लंबी सुरंग का उद्घाटन करेंगे पीएम मोदी, रक्षा मंत्री भी होंगे शामिल

हिमाचल प्रदेश के रोहतांग में सामरिक रूप से महत्वपूर्ण अटल सुरंग का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को उद्घाटन करेंगे। इस कार्यक्रम में पीएम मोदी के साथ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर भी मौजूद रहेंगे। प्रधानमंत्री इस सुरंग का उद्घाटन सुबह 10 बजे से 11:45 के बीच, मनाली में उसके दक्षिणी सिरे से करेंगे। करीब 9 किमी लंबी ये सुरंग मनाली से लाहौल-स्पीति की लाहौल घाटी को जोड़ती है। इस सुरंग के बनने से ये मनाली और लेह के बीच की 46 किमी लंबी यात्रा को  4 से 5 घंटे कम करती है। हिमालय की पीर पांजल रेंज में समुद्र तल से 10,000 फुट की ऊंचाई पर बनी ये दुनिया की सबसे लंबी सुरंग है। इस सुरंग के माध्यम से रोजाना यहां से करीब 3000 से ज्यादा कारें और 1500 ट्रक आवाजाही कर सकेंगे। सुरंग के निर्माण में करीब 3,300 करोड़ रुपये का खर्च आया है।

PM Modi to inaugurate world's longest tunnel in Rohtang on October 3, Defense Minister Rajnath Singh will also be present
Author
Rohtang Pass, First Published Oct 1, 2020, 2:02 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

रोहतांग. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को हिमाचल प्रदेश के रोहतांग में सामरिक रूप से महत्वपूर्ण अटल सुरंग का उद्घाटन करेंगे। इस कार्यक्रम में पीएम मोदी के साथ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर भी मौजूद रहेंगे। प्रधानमंत्री इस सुरंग का उद्घाटन सुबह 10 बजे से 11:45 के बीच, मनाली में उसके दक्षिणी सिरे से करेंगे। यहां से वह लाहौल-स्पीति की लाहौल घाटी में स्थित सुरंग के उत्तरी छोर तक यात्रा करेंगे । करीब 9 किमी लंबी ये सुरंग मनाली से लाहौल-स्पीति की लाहौल घाटी को जोड़ती है। इस सुरंग के बनने से ये मनाली और लेह के बीच की 46 किमी लंबी यात्रा को  4 से 5 घंटे कम करती है।

हिमालय की पीर पांजल रेंज में समुद्र तल से 10,000 फुट की ऊंचाई पर बनी ये दुनिया की सबसे लंबी सुरंग है। इस सुरंग के माध्यम से रोजाना यहां से करीब 3000 से ज्यादा कारें और 1500 ट्रक आवाजाही कर सकेंगे। भारी बर्फबारी के कारण इस सुरंग के निर्माण का काम साल में छह महीने बंद रहता था। सुरंग के निर्माण में करीब 3,300 करोड़ रुपये का खर्च आया है।

सामरिक रूप से महत्वपूर्ण है अटल सुरंग

भारत-चीन सीमा पर लद्दाख में जारी गतिरोध के मद्देनजर अटल सुरंग का उद्घाटन सामरिक रूप से महत्वपूर्ण है। सुरंग के उद्घाटन के लिए प्रधानमंत्री मोदी तीन अक्टूबर को कुल्लू जिले के मनाली स्थित सेंटरफॉर स्नो एंड एवलांच स्टडी इस्टैबलिशमेंट (एसएएसई) के हेलीपैड पर सुबह सवा नौ बजे उतरेंगे। वह 10 मिनट के लिए सीमा सड़क संगठन के अतिथि गृह में रूकेंगे और वहां संगठन के अधिकारियों से चर्चा करेंगे।

इसके बाद पीएम मोदी राज्य में दो जनसभाओं को भी संबोधित करेंगे। प्रधानमंत्री लाहौल के सिसू में करीब 200 लोगों की एक सभा को संबोधित करेंगे। समारोह में कोविड-19 से जुड़े सभी दिशा-निर्देशों का पालन किया जाएगा।  फिर प्रधानमंत्री दक्षिणी छोर पर लौट कर मनाली के सोलांग नाला के पास 200 लोगों की एक और सभा को संबोधित करेंगे। प्रधानमंत्री एसएएसई के हेलीपैड से करीब 2:20 बजे नई दिल्ली के लिए लौट जाएंगे।

ऐसा रहेगा प्रधानमंत्री मोदी का कार्यक्रम

  • करीब 9.15 बजे सासे हेलीपैड पहुंचेंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी।
  • सीमा सड़क संगठन के विश्राम गृह में 10 मिनट अल्प विराम करेंगे।
  • 10 बजे उद्घाटन स्थल पहुंचेंगे।
  • 10 बजे से 11.45 बजे के बीच उद्घाटन करेंगे।
  • सिसू में 12 बजे से 12.45 बजे तक जनसभा को संबोधित करेंगे।
  • 1 बजे सोलांग नाला पहुंचेंगे और 40 मिनट तक दूसरी जनसभा को संबोधित करेंगे।
  • 2.20 बजे एसएएसई के हेलीपैड से नई दिल्ली के लिए रवाना होंगे।
Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios