Asianet News Hindi

पीएम मोदी ने नए संसद भवन का शिलान्यास किया, पुरानी से 3 गुना बड़ी होगी बिल्डिंग, 971 करोड़ रु होंगे खर्च

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को नई दिल्ली के संसद मार्ग में नए संसद भवन का शिलान्यास और भूमिपूजन किया। संसद भवन की नई इमारत के शिलान्‍यास के बाद पीएम मोदी ने एक स्‍मारक का भी अनावरण किया। इस कार्यक्रम में विभिन्न धर्मों के धर्मगुरु भी मौजूद रहे। इसके अलावा गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, लोकसभा स्पीकर ओम बिरला समेत तमाम केंद्रीय मंत्री और विशिष्ट अतिथि भी मौजूद रहे।

PM Modi will lay the foundation stone of new parliament building today
Author
New Delhi, First Published Dec 10, 2020, 7:23 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को नई दिल्ली के संसद मार्ग में नए संसद भवन का शिलान्यास और भूमिपूजन किया। संसद भवन की नई इमारत के शिलान्‍यास के बाद पीएम मोदी ने एक स्‍मारक का भी अनावरण किया। इस कार्यक्रम में विभिन्न धर्मों के धर्मगुरु भी मौजूद रहे। इसके अलावा गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, लोकसभा स्पीकर ओम बिरला समेत तमाम केंद्रीय मंत्री और विशिष्ट अतिथि भी मौजूद रहे। नई संसद भवन 2022 तक पूरी हो जाएगी। इसे बनाने में करीब 971 करोड़ रुपए का खर्च आएगा।

 

 


शिलान्यास कार्यक्रम में मोजूद विभिन्न धर्मों के गुरु
 


शिलान्यास कार्यक्रम में मोजूद विशिष्ट अतिथि। 


सर्वधर्म प्रार्थना करते विभिन्न धर्मगुरु
 

 

3 गुना ज्यादा बड़ी होगी नई बिल्डिंग

नया संसद भवन अत्याधुनिक, तकनीकी सुविधाओं से युक्‍त और ऊर्जा कुशल होगा। मौजूदा संसद भवन से त्रिकोणीय आकार की नई इमारत सुरक्षा सुविधाओं से लैस होगी। नई लोकसभा मौजूदा आकार से तीन गुना बड़ी होगी और राज्‍यसभा के आकार में भी वृद्धि की गई है। नए भवन की सज्‍जा में भारतीय संस्‍कृति, क्षेत्रीय कला, शिल्‍प और वास्‍तुकला की विविधता का समृद्ध मिलाजुला स्‍वरूप होगा। डिजाइन योजना में केन्‍द्रीय संवैधानिक गैलरी को स्‍थान दिया गया है। आम लोग इसे देख सकेंगे।

नए संसद भवन के निर्माण में हरित प्रौद्योगिकी का इस्‍तेमाल होगा और पर्यावरण अनुकूल कार्यशैली को बढ़ावा दिया जाएगा। इसमें उच्‍च गुणवत्‍ता वाली ध्‍वनि तथा दृश्‍य-श्रव्‍य सुविधाएं, बैठने की आरामदायक व्‍यवस्‍था, प्रभावी और समावेशी आपातकालीन निकासी की व्‍यवस्‍था होगी। इमारत उच्चतम संरचनात्मक सुरक्षा मानकों का पालन करेगी, जिसमें भूकंपीय क्षेत्र 5 की आवश्यकताओं का पालन करना भी शामिल है और इसे रखरखाव तथा संचालन में आसानी होने के लिए डिजाइन किया गया है।

इस समारोह में माननीय लोकसभा अध्यक्ष श्री ओम बिड़ला, संसदीय कार्य मंत्री श्री प्रल्हाद वेंकटेश जोशी, आवास एवं शहरी मामलों के राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री हरदीप सिंह पुरी और राज्यसभा के उपसभापति श्री हरिवंश नारायण सिंह शामिल होंगे। केंद्रीय कैबिनेट मंत्री, राज्य मंत्री, संसद सदस्य, सचिव राजदूत / उच्चायुक्त सहित लगभग 200 गणमान्य व्यक्ति भी समारोह में हिस्सा लेंगे, जो लाइव वेबकास्ट के जरिये अपनी उपस्थिति दर्ज कराएंगे।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios