Asianet News Hindi

असम बंगाल दौरा: हल्दिया से बोले पीएम मोदी- उत्तराखंड आपदा का सामना कर रहा, मैं सीएम के साथ संपर्क में

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 7 फरवरी को असम और बंगाल के दौरे पर पहुंचे। विधानसभा चुनाव से पहले पीएम मोदी इन दोनों राज्यों के दौरे पर निकले, ऐसे में इस दौरे का काफी अहम माना जा रहा है। पीएम मोदी असम में 'असोम माला' कार्यक्रम की शुरुआत की। इसके बाद उन्होंने दो मेडिकल कॉलेजों और अस्पतालों की भी आधारशिला रखी। इसके बाद पीएम मोदी बंगाल के प हल्दिया पहुंचे। मोदी हल्दिया में एक चुनावी रैली को भी संबोधित करेंगे।

Prime Minister Narendra Modi election tour of Assam and Bengal kpa
Author
Kolkata, First Published Feb 7, 2021, 8:12 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 7 फरवरी को असम और बंगाल के दौरे पर पहुंचे। विधानसभा चुनाव से पहले पीएम मोदी इन दोनों राज्यों के दौरे पर निकले, ऐसे में इस दौरे का काफी अहम माना जा रहा है। पीएम मोदी असम में 'असोम माला' कार्यक्रम की शुरुआत की। इसके बाद उन्होंने दो मेडिकल कॉलेजों और अस्पतालों की भी आधारशिला रखी। इसके बाद पीएम मोदी बंगाल के प हल्दिया पहुंचे।

यहां उन्होंने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, उत्तराखंड एक आपदा का सामना कर रहा है। मैं सीएम त्रिवेंद्र रावत, केंद्रीय गृह मंत्री और एनडीआरएफ के अफसरों के साथ संपर्क में हूं। रेस्क्यू अभियान जारी है। 

पूरा देश उत्तराखंड के लिए प्रार्थना कर रहा- पीएम मोदी
पीएम मोदी ने कहा, आज हम मां गंगा के एक छोर पर हैं। लेकिन जो मां गंगा का उद्गम स्थल है, वो राज्य उत्तराखंड इस समय एक आपदा के सामना कर रहा है। उन्होंने कहा, एक ग्लेशियर टूटने की वजह से वहां नदी का जल स्तर बढ़ गया। नुकसान की खबरें धीरे धीरे आ रही हैं। उत्तराखंड में ऐसे परिवार मुश्किल से मिलते हैं जिनका कोई न कोई सदस्य फौज में न हो। यानि वहां के लोगों का हौसला, किसी भी आपदा को मात दे सकता है। वहां के लोग के लिए मैं प्रार्थना कर रहा हूं, बंगाल प्रार्थना कर रहा है, देश प्रार्थना कर रहा है।

पीएम ने कहा, पिछली बार मैं नेताजी मैं नेताजी सुभाष चंद्र बोस जी की जन्म जयंती पर बंगाल आया था। आज हल्दिया सहित पश्चिम बंगाल के विकास से जुड़ी करीब 5,000 करोड़ रुपए की परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास करने के लिए आपके बीच आया हूं।

- उन्होंने कहा, पश्चिम बंगाल का विकास और यहां आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण केंद्र सरकार की निरंतर प्राथमिकता रही है। कोलकाता में साढ़े 8 हज़ार करोड़ रुपए की लागत से मेट्रो प्रोजेक्ट पर तेज़ी से काम चल रहा है। इस बार के बजट में केंद्र सरकार ने इस अभियान को और विस्तार दिया है।

बंगाल में बनेंगे नेशनल हाईवे
- पीएम मोदी ने कहा, इस साल के बजट में चाय बगानों से जुड़े लाखों साथियों पर भी विशेष ध्यान दिया गया है। इनके लिए 1,000 करोड़ रु के पैकेज की व्यवस्था की गई है। इस पैकेज का बहुत बड़ा लाभ पश्चिम बंगाल के चाय बगान से जुड़े साथियों को, विशेषतौर पर हमारी बहनों को मिलेगा।

- उन्होंने कहा, केंद्र सरकार इस साल भी हजारों करोड़ रुपए पश्चिम बंगाल में नेशनल हाईवे बनाने में लगाने वाली है। पश्चिम बंगाल को पंजाब से जोड़ने वाला पूर्वी डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर बहुत जल्दी बनकर तैयार होने वाला है।

बंगाल को इन योजनाओं की सौगात

- बंगाल के हल्दिया में इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट्स का शुभारंभ
- हल्दिया में ही भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड की LPG इंपोर्ट टर्मिनल राष्ट्र को समर्पित। बता दें कि इस प्रोजेक्ट पर करीब 1100 करोड़ रुपए खर्च हुए हैं। इसकी क्षमता 1 मिलियन मैट्रिक टन प्रति वर्ष है। इससे पश्चिम बंगाल, उत्तर पूर्वी भारत और पूर्वी भारत की LPG की मांग पूरी होगी।
- ऊर्जा गंगा परियोजना के तहत डोभी-दुर्गापुर प्राकृतिक गैस पाइपलाइन सेक्शन का शुभारंभ। यह प्रोजेक्ट करीब 2400 करोड़ रुपए का है।
- हल्दिया रिफाइनरी की दूसरी कैटेलिटिक-इसोडेवेक्सिंग इकाई की आधारशिला 
- एनएच-41 पर रानीचक, हल्दिया में एक फोरलेन ROB-कम-फ्लाईओवर का उद्घाटन। यह करीब 190 करोड़ रुपए का प्रोजेक्ट है।


असम में क्या बोले पीएम मोदी
सबसे पहले मोदी असम के सोनितपुर पहुंचे। यहां उन्होंने कहा कि असम के लोगों का प्रेम इतना गहरा है कि उन्हें फिर से यहां आना पड़ा। पश्चिम बंगाल के आयोजन में प्रोटोकॉल के तहत मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को भी निमंत्रण भेजा गया है। लेकिन कहा जा रहा है कि वे नहीं आएंगी। बता दें कि असम और बंगाल में अप्रैल और मई के महीने में विधानसभा के चुनाव होने हैं। इस संबंध में चुनाव आयोग 12 फरवरी को बड़ी बैठक करेगा।

सोनितपुर में मोदी ने कहा
पूर्वोत्तर और असम को विकास की सुबह के लिए लंबा इंतजार करना पड़ा।
देश की आजादी के लिए असम के स्वाधीनता सेनानियों ने बलिदान दिया था। इन शहीदों के खून की एक-एक बूंद और साहस हमारे संकल्पों को मजबूती देता है। असम का यही अतीत उनके मन को बार-बार गौरव से भर रहा है।
पिछले महीने असम में आकर गरीब, पीड़ित, शोषित लोगों को जमीन के पट्टों के वितरण कार्यक्रम में हिस्सा बनने का सौभाग्य मिला था। तब मैंने कहा था कि असम के लोगों का स्नेह और आपका प्रेम इतना गहरा है कि वो मुझे बार-बार असम ले आता है।
इससे पहले असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने प्रधानमंत्री मोदी का स्वागत किया।

मोदी ने किए ट़्वीट...
असम में उनके स्वागत की तैयारियों की तस्वीरें ट्वीट करते हुए मोदी 6 फरवरी को लिखा था कि असम में अपार उत्साह देखकर उन्हें खुशी मिली। मोदी ने कहा कि वे असम के चहुमुंखी विकास के लिए निरंतर काम करते रहेंगे। मोदी ने उस तस्वीर को भी शेयर किया था, जिसमें लोगों ने दीपक से उनका नाम मोदीजी लिखा।

यह है मोदी का कार्यक्रम

  • सुबह 11:45 बजे सोनितपुर जिले के ढेकियाजुली में एक कार्यक्रम में 'असोम माला' कार्यक्रम का शुभारंभ
  • बिश्वनाथ और चराइदेव में मेडिकल कॉलेजों और अस्पतालों की आधारशिला। यह करीब 1100 करोड़ का प्रोजेक्ट है।

 

 

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios