Asianet News HindiAsianet News Hindi

PNB Scam: मेहुल को सनसनीखेज बयान; फिर से हो सकता है किडनैप, जबरदस्ती ले जाया जा सकता है भारत

PNB में 13,500 करोड़ रुपए के घोटाले(PNB Scam) के आरोपी मेहुल चोकसी (Mehul Choksi) ने फिर से खुद के अपहरण की आशंका जताई है। न्यूज एजेंसी ANI से बातचीत में चोकसी ने कहा कि उसे गुयाना(Guyana) के रास्ते भारत ले जाया जा सकता है।

punjab national bank scam, A new sensational statement of Mehul Choksi KPA
Author
New Delhi, First Published Nov 29, 2021, 10:56 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. करीब 13,578 करोड़ की पीएनबी धोखाधड़ी(PNB Scam) में 7,080 करोड़ की हेराफेरी करने के आरोपी मेहुल चोकसी(Mehul Choksi) ने एक सनसनीखेज बयान दिया है। केंद्रीय जांच ब्यूरो(CBI) और  प्रवर्तन निदेशालय(ED) से मोस्ट वांटेड मेहुल ने न्यूज एजेंसी ANI से बातचीत में आशंका जताई कि उसका फिर से किडनैप हो सकता है। मेहुल इस समय एंटीगा में अपने घर पर है। मेहुल ने कहा कि उसे किडनैप करके गुयाना के रास्ते भारत ले जाया जा सकता है।

मई में एंटीगा से लापता हुआ था मेहुल
बता दें कि इससे पहले मई में मेहुल अचानक से एंटीगा से लापता हो गया था। बाद में वो डोमिनिका में पकड़ा गया था। तब भी उसने अपने अपहरण का आरोप लगाया था। मेहुल ने आरोप लगाया था कि उसे रॉ के एजेंटों ने किडनैप किया था और फिर पीटा। चोकसी ने इंटरव्यू में कहा कि उसकी हेल्थ काफी खराब है। वो लगातार डरा-सहमा है। इस वजह से घर से बाहर तक कदम नहीं रखता। मेहुल ने कहा कि उसके वकील एंटीगा और डोमिनिका दोनों केस में कानूनी लड़ाई लड़ रहे हैं। मेहुल ने कहा कि उससे भरोसा है कि वो ये लड़ाई जीतेगा।

डोमिनिका कोर्ट में सुनाई थी वकीलों ने ये दास्तां
बता दें कि 23 मई को मेहुल चोकसी एंटीगुआ से गायब हो गया था। 2 दिन बाद उसे डोमिनिका में पकड़ा गया था। भारत लगातार उसके प्रत्यर्पण की कोशिश कर रहा है, लेकिन अभी तक सफलता नहीं मिली है। इस बीच मेहुल चोकसी को अवैध तरीके से कैरेबियन आइसलैंड देश डोमिनिका में प्रवेश करने के मामले में डोमिनिका की हाईकोर्ट ने जमानत दे दी थी। उसे मेडिकल आधार पर इलाज के लिए एंटीगुआ जाने की इजाजत दे दी थी। मेहुल ने एंटीगुआ की नागरिकता ले रखी है। तब मेहुल के वकील(घोटाला केस) विजय अग्रवाल ने बताया था कि  मेहुल को इतना टॉर्चर किया गया है कि उसे न्यूरोलॉजिकल इश्यू(तंत्रिका तंत्र संबंधी बीमारी) हो गई है। 

मेहुल की यह है कहानी
मेहुल ने 2013 में शेयर बाजार में हेराफेरी करके यह फ्रॉड किया था। उसके खिलाफ गिरफ्तारी वारंट निकला हुआ है, लेकिन इस बीच वो एंटीगुआ भाग निकला। जांच एजेंसियों ने उसे भगोड़ा घोषित करते हुए उसकी अब तक 2,500 करोड़ रुपए की संपत्ति कुर्क की है। मेहुल ने एंटीगुआ और बारबुडा में काफी बड़ा निवेश कर रखा है। उसने वहां की नागरिकता ले ली है। उसे नवंबर, 2017 में कैरेबियाई राष्ट्र द्वारा निवेश कार्यक्रम के तहत नागरिकता दी थी। 

जनवरी, 2008 में देश छोड़ा था
मेहुल चोकसी (Mehul Choksi) के वकील ने  जून, 2017 को बंबई हाई कोर्ट में सफाई दी थी कि हीरा कारोबारी इलाज के लिए एंटीगुआ गया है, न कि भागा है। चोकसी ने अपने वकील विजय अग्रवाल के जरिए कोर्ट में हलफनामा दायर करके कहा था कि उसने मेडिकल जांच और उपचार के लिए जनवरी 2018 में देश छोड़ा था। इसक बाद मेहुल लगातार स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का हवाला देकर भारत लौटने में असमर्थता जताता रहा। चोकसी के अलावा उसका भतीजा नीरव मोदी भी पीएनबी घोटाले के आरोप हैं। 

यह भी पढ़ें
गंभीर बीमारी का शिकार हुआ भगोड़ा मेहुल, व्हीलचेयर के बाद बेड पर कोर्ट में पेशी; वकील ने किया टॉर्चर का खुलासा
Lithuania से खफा China बोला: America को खुश करना भारी पड़ेगा, दुनिया से करवा देंगे अलग-थलग
Triple Murder के लिए 43 साल पहले हुई थी सजा, सम्मानजनक जीवन के लिए 14.5 लाख डॉलर से अधिक मिला चंदा

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios