नई दिल्ली. देश में कोरोना को खत्म करने के लिए वैक्सीनेशन की शुरुआत हो चुकी है। राजनीतिक दलों से लेकर डॉक्टर्स ने वैक्सीन पर बधाई दी। लेकिन सोशल मीडिया पर यूजर्स पूछ रहे हैं कि पीएम मोदी पर सवाल उठाने वाले राहुल गांधी ने अभियान की शुरुआत वाले दिन कोई प्रतिक्रिया क्यों नहीं दी।

अंकुर सिंह नाम के ट्विटर यूजर ने लिखा, राहुल गांधी ने वैक्सीन को लेकर सरकार पर कई कमेंट किए। लेकिन जब मोदी सरकार ने दो वैक्सीन को मंजूरी दी और आज जब दुनिया के सबसे बड़े वैक्सीन प्रोग्राम को लॉन्च किया गया तो उन्होंने कोई ट्वीट नहीं किया। 

राहुल गांधी का आखिर ट्वीट
राहुल गांधी ने आखिरी ट्वीट किसानों को लेकर किया। उन्होंने अपना एक वीडियो ट्वीट कर लिखा, मोदी-माया टूट गयी, मोदी सरकार का अहंकार भी टूटेगा लेकिन अन्नदाता का हौसला ना टूटा है, ना टूटेगा। सरकार को कृषि विरोधी कानून वापस लेने ही होंगे।

3006 साइट्स पर वैक्सीन लगाने की शुरुआत
देश में कोरोना के अंत की शुरुआत हो चुकी है। 29 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की 3006 साइट्स पर एक साथ वैक्सीनेशन कार्यक्रम चलाया जा रहा है। पहले फेज में हेल्थवर्कर्स और फ्रंटलाइन वर्कर्स का टीकाकरण होगा। पहले दिन हर साइट पर कम से कम 100 लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी। पहले चरण में लगाए जा रही वैक्सीन मुफ्त है। पीएम नरेंद्र मोदी ने इस सप्ताह की शुरुआत में कहा था, केंद्र 3 करोड़ लोगों को वैक्सीन लगाने का खर्च देगी। भारत में वायरस से अब तक एक करोड़ 5.27 लाख से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं और 1.52 लाख लोगों की मौत हो चुकी है।