Asianet News HindiAsianet News Hindi

मन की बात पर राहुल गांधी का तंज- NEET-JEE पर चर्चा चाहते थे छात्र, लेकिन पीएम ने की 'खिलौने पर चर्चा'

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को रेडियो कार्यक्रम मन की बात को संबोधित किया। अब कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने इसे लेकर तंज कसा है। राहुल ने कहा, छात्र NEET-JEE पर चर्चा चाहते थे, लेकिन पीएम मोदी ने खिलौने पर चर्चा की। 

rahul gandhi dig on mann ki baat says PM modi did Khilone Pe Charcha KPP
Author
New Delhi, First Published Aug 30, 2020, 1:59 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को रेडियो कार्यक्रम मन की बात को संबोधित किया। अब कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने इसे लेकर तंज कसा है। राहुल ने कहा, छात्र NEET-JEE पर चर्चा चाहते थे, लेकिन पीएम मोदी ने खिलौने पर चर्चा की। 

कोरोना के बढ़ते हुए मामलों के बीच सरकार ने सितंबर में NEET-JEE की परीक्षा कराने का फैसला किया। कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी दल इसका लगातार विरोध कर रहे हैं। इसी बीच राहुल ने ट्वीट कर कहा, NEET-JEE के छात्र परीक्षा पर चर्चा चाहते थे, लेकिन पीएम मोदी ने खिलौने पर चर्चा कर दी। 

क्या कहा पीएम मोदी ने?
पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा, मैं मन की बात सुन रहे माता पिताओं से क्षमा मांगता हूं, शायद हो सकता है कि ये कार्यक्रम सुनने के बाद बच्चे खिलौनों की नई नई मांग करने लगें। खिलौने जहां एक्टिविटी को बढ़ाने वाले होते हैं, तो खिलौने हमारी आकांक्षाओं को भी उड़ान देते हैं। खिलौने केवल मन ही नहीं बहलाते, खिलौने मन बनाते भी हैं और मकसद गढ़ते भी हैं।

- पीएम ने बताया, मैंने कही पढ़ा था, खिलौनों के संबंध में गुरुदेव रविंद्रनाथ टैगोर ने कहा था, बेस्ट टॉय वे होते हैं, जो पूरे नहीं होते। ऐसा खिलौना जो अधूरा होता है, बच्चे खेल खेल में इसे पूरा करते हैं। टैगोर ने कहा था कि जब वे छोटे थे तो घर में ही मिलने वाले सामानों से खेल बनाते थे। उन्होंने कहा, देश में लोकल खिलौनों की बहुत समृद्ध परंपरा रही है। कई प्रतिभाशाली और कुशल कारीगर हैं, जो अच्छे खिलौने बनाने में महारत रखते हैं। भारत के कुछ क्षेत्र टॉय क्लस्टर यानी खिलौनों के केन्द्र के रूप में भी विकसित हो रहे हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios