Asianet News Hindi

राहुल गांधी ने आपातकाल के फैसले को बताया गलत, कहा- तब जो हुआ और अब जो हो रहा है उसमें फर्क है

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि आपातकाल लगाना एक गलती थी, लेकिन पार्टी ने कभी संवैधानिक ढांचे पर कब्जा करने का प्रयास नहीं किया। उन्होंने कॉर्नेल विश्वविद्यालय के प्रोफेसर कौशिक बसु के साथ एक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत में यह बात कही।

Rahul Gandhi termed the decision of emergency as wrong kpn
Author
New Delhi, First Published Mar 3, 2021, 7:28 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि आपातकाल लगाना एक गलती थी, लेकिन पार्टी ने कभी संवैधानिक ढांचे पर कब्जा करने का प्रयास नहीं किया। उन्होंने कॉर्नेल विश्वविद्यालय के प्रोफेसर कौशिक बसु के साथ एक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत में यह बात कही।

अपनी दादी और पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी द्वारा लगाए गए आपातकाल को गलत करार देते हुए राहुल गांधी ने कहा कि वर्तमान में भारत में जो हो रहा है वह अलग था। उन्होंने आरोप लगाया कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) स्वतंत्र संस्थानों पर कब्जा करने की कोशिश कर रहा है।

राहुल गांधी ने कहा, मुझे लगता है कि आपातकाल एक गलती थी। आपातकाल में जो हुआ वो गलत था लेकिन अब जो हो रहा है, उसमें और आपातकाल में बुनियादी अंतर था। कांग्रेस पार्टी ने भारत के संवैधानिक ढांचे से छेड़छाड़ नहीं की। हमारा संविधान हमें इसकी अनुमति नहीं देता है। 

राहुल और इंदिरा ने पहले भी मांगी थी माफी
इससे पहले 2019 के लोक सभा चुनाव के दौरान भी राहुल गांधी ने एक साक्षात्कार में माफी मांगते हुए कहा था कि आपातकाल एक गलती थी। 24 जनवरी 1978 को महाराष्ट्र की एक रैली में इंदिरा गांधी ने 1975 में लगाए गए आपातकाल के दौरान की गई ज्यादतियों के लिए माफी मांगी थी।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios