Asianet News HindiAsianet News Hindi

इनकी रगड़ाई नहीं हुई, आए और मंत्री बन गए...बिना नाम लिए पायलट पर ऐसे भड़के अशोक गहलोत

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत अब खुलकर सचिन पायलट के विरोध में आ गए हैं। उन्होंने कहा कि सचिन पायलट खुद राजस्थान में सरकार गिराने के लिए डील कर रहे थे। गहलोत ने कहा, हमारे विधायकों को पैसे के लालच दिए जा रहे हैं। 30 करोड़ रुपए का ऑफर दिया जा रहा है। 
 

Rajasthan CM Ashok Gehlot targets Sachin Pilot kpn
Author
New Delhi, First Published Jul 15, 2020, 3:09 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत अब खुलकर सचिन पायलट के विरोध में आ गए हैं। उन्होंने कहा कि सचिन पायलट खुद राजस्थान में सरकार गिराने के लिए डील कर रहे थे। गहलोत ने कहा, हमारे विधायकों को पैसे के लालच दिए जा रहे हैं। 30 करोड़ रुपए का ऑफर दिया जा रहा है। 

विधायकों को 10 दिन तक होटल में रखना पड़ा
सचिन पायलट ने कहा, हमें अपने विधायकों को 10 दिन तक होटल में रखना पड़ा है। अगर उस वक्त हम नहीं रखते तो आज जो मानेसर वाला खेल हुआ है, वो उस समय होने वाला था। रात के दो बजे लोगों को भेजा जा रहा था। 

गहलोत ने कहा, अच्छी अग्रोजी बोलने से कुछ नहीं होता
अशोक गहलोत ने साफ कहा, अच्छी अंग्रेजी बोलने से कुछ नहीं होता है, कमिटमेंट मायने रखता है। उन्होंने कहा, इनकी रगड़ाई नहीं हुई है। आए केन्द्रीय मंत्री बन गये और प्रदेश अध्यक्ष बन गये। हम लोगों की एनएसयूआई और यूथ कांग्रेस में रगड़ाई हुई है तब यहां पहुंचे हैं। डिप्टी सीएम खुद सरकार गिराने की साजिश में लगे थे।

हमारी बहुत रगड़ाई हुई है
सीएम अशोक गहलोत ने कहा, हम तो तीसरी बार मुख्यमंत्री बने हैं। राजनीति में 40 साल हो गए। हम तो नई पीढ़ी को तैयार करते हैं। आने वाला कल उनका है। हमारी बहुत रगड़ाई हुई थी। जिन्होंने 40 सालों तक संघर्ष किया, वो आज मुख्यमंत्री, केंद्रीय मंत्री और पार्टी के शीर्ष पर हैं।

इनकी रगड़ाई नहीं हुई
अशोक गहलोत ने निशाना साधते हुए कहा, लोग कहते हैं हम नई पीढ़ी को पसंद नहीं करते हैं। राहुल गांधी, सोनिया गांधी और खुद अशोक गहलोत उन्हें पसंद करता है। गवाह है कि जब भी मीटिंग होती है तो मैं युवाओं और एनएसयूआई के लिए लड़ाई लड़ता हूं। इनकी रगड़ाई नहीं हुई थी, इसलिए यह समझ नहीं पा रहे हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios