Asianet News HindiAsianet News Hindi

राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान को आतंकवाद पर सुनाई खरी-खरी

सिंह पुणे में राष्ट्रीय रक्षा अकादमी के 137वें कोर्स की पासिंग आउट परेड में बोल रहे थे उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को 1948 से लेकर 1965, 1971 और 1999 से यह अहसास हो गया था युद्ध में भारत के खिलाफ जीत नहीं सकता

rajnath singh warns pakistan for proxy war
Author
New Delhi, First Published Nov 30, 2019, 11:52 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पुणे: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को कहा कि पाकिस्तान ने 'छद्म' युद्ध छेड़ रखा है क्योंकि उसे अहसास हो चुका है कि वह 'परम्परागत' युद्ध नहीं जीत सकता। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने जो 'छद्म' युद्ध का रास्ता अख्तियार किया है, वह एक दिन उसकी हार की वजह बनेगा।

सिंह पुणे में राष्ट्रीय रक्षा अकादमी के 137वें कोर्स की पासिंग आउट परेड में बोल रहे थे। रक्षा मंत्री ने कहा कि पाकिस्तान को 1948 से लेकर 1965, 1971 और 1999 से यह अहसास हो गया था कि वह किसी भी परम्परागत या सीमित युद्ध में भारत के खिलाफ जीत नहीं सकता।

उन्होंने कहा, ''उसने आतंकवाद के जरिए छद्म युद्ध का रास्ता चुना है और मैं पूरी जिम्मेदारी के साथ आपसे कह सकता हूं कि पाकिस्तान को हार के सिवाय कुछ नहीं मिलेगा।'' सिंह ने कहा कि भारत के अन्य देशों के साथ हमेशा शिष्ट और मैत्रीपूर्ण रिश्ते रहे हैं। भारत की अपने क्षेत्र से अतिरिक्त कोई महत्वाकांक्षा नहीं रही लेकिन अगर उसे उकसाया गया तो वह किसी को नहीं बख्शेगा।

उन्होंने कहा,''हम देश की संप्रभुत्ता और लोगों की सुरक्षा को लेकर प्रतिबद्ध हैं। लेकिन अगर कोई हमारी धरती पर आतंकवादी शिविर चलाता है या कोई हमला करता है तो हम जानते हैं कि मुंहतोड़ जवाब कैसे दिया जाता है।''

(यह खबर समाचार एजेंसी भाषा की है, एशियानेट हिंदी टीम ने सिर्फ हेडलाइन में बदलाव किया है।)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios