Asianet News HindiAsianet News Hindi

सरकार के साथ पार्टनर्शिप में कोरोना वैक्सीन और टेस्टिंग में जुटेगी रिलायंस, नीता अंबानी ने की बड़ी घोषणा

नीता अंबानी ने अपने संबोधन में कहा, रिलायंस फाउंडेशन सरकार और स्थानीय नगरपालिकाओं की मदद से तेजी से मेगा-स्केल COVID परीक्षण के लिए काम कर रहा है। उन्होंने कहा, इस काम में जियो के डिजिटल इन्फ्रास्ट्रक्चर से बहुत ज्यादा मदद मिल रही है।  

reliance foundation partnering with govt for covid testing vaccine nita ambani gave hint kpt
Author
New Delhi, First Published Jul 15, 2020, 7:59 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नेशनल. Reliance big Announcements Coronavirus Vaccine: भारत के सबसे अमीर कारोबारी मुकेश अंबानी ने बुधवार को रिलायंस इंडस्ट्रीज की 43वीं वार्षिक आम सभा को संबोधित किया। इस मौके पर मुकेश अंबानी ने कई बड़ी घोषाएं कीं। इस आम सभा की सबसे बड़ी खास बात रही कि रिलायंस के इतिहास में पहली बार नीता अंबानी ने संबोधित किया। रिलायंस फाउंडेशन की चेयरपर्सन नीता अंबानी ने अपने पहले संबोधन में कोरोना वायरस की वैक्सीन को लेकर बड़ी बात कही।

उन्होंने कहा, उन्होंने कहा, कोरोना महामारी से अभी जंग बाकी है। इस जंग में रिलायंस फाउंडेशन, सरकार और लोकल म्युनिसिपल अथॉरिटी के साथ मिलकर काम कर रही है। उन्होंने लोगों को आश्वस्त किया है कि बहुत जल्द बड़ी खुशी मिलने वाली है और देश के हर कोने के लोगों तक यह खुशी फैलेगी।

नीता अंबानी ने अपने संबोधन में कहा, रिलायंस फाउंडेशन सरकार और स्थानीय नगरपालिकाओं की मदद से तेजी से मेगा-स्केल COVID परीक्षण के लिए काम कर रहा है। उन्होंने कहा, इस काम में जियो के डिजिटल इन्फ्रास्ट्रक्चर से बहुत ज्यादा मदद मिल रही है।  

उन्होंने कहा, मैं आपको आश्वस्त करना चाहते हैं कि कोरोना वैक्सीन उपलब्ध होते ही डिजिटल वितरण और आपूर्ति श्रृंखला का उपयोग करके देश के हर कोने तक पहुंचाएंगे। उन्होंने कहा, सप्लाई चेन सिस्टम को ज्यादा सरल बनाया जाएगा, ताकि जल्द से जल्द लोगों को इस बीमारी से सुरक्षित किया जा सके। 

 

reliance foundation partnering with govt for covid testing vaccine nita ambani gave hint kpt

 

गौरतलब है कि देश और दुनिया में कोरोना वैक्सीन को लेकर तेजी से काम जारी है। भारत ने भी इस क्षेत्र में काफी काम कर लिया है. भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) ने बताया कि कोविड-19 टीके का देश में मानव परीक्षण शुरू हो गया है। देश में विकसित दो टीकों के परीक्षण की कवायद में लगभग एक हजार स्वयंसेवी शामिल हो रहे हैं।

भारत के औषधि महानियंत्रक (डीसीजीआई) ने दो टीकों के पहले और दूसरे चरण के मानव परीक्षण की अनुमति दे दी है। इनमें से एक टीका भारत बायोटेक इंटरनेशनल लिमिटेड ने आईसीएमआर के साथ मिलकर विकसित किया है, जबकि दूसरा टीका जायडस कैडिला हेल्थकेयर लिमिटेड ने तैयार किया है।

 

reliance foundation partnering with govt for covid testing vaccine nita ambani gave hint kpt

 

भार्गव ने एक कहा कि दो भारतीय टीके हैं जिनका चूहों और खरगोशों में सफल अध्ययन हो चुका है और यह डेटा डीसीजीआई को सौंपा गया था जिसके बाद दोनों टीकों को इस महीने के शुरू में शुरुआती चरण के मानव परीक्षण की अनुमति मिल गई। उन्होंने कहा, इस महीने, दो भारतीय टीका कंपनियों को शुरुआती चरण के मानव परीक्षण करने की अनुमति मिल गई।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios