Asianet News HindiAsianet News Hindi

Save Soil Movement: सद्गुरू की मुहिम को मिला सितारों का साथ, मिट्टी बचाने के लिए पूरी हुई 100 दिनों की यात्रा

सद्गुरू (Sadhguru) के Save Soil Movement को फिल्मी सितारों ने भी सपोर्ट किया है। हाल ही में बालीवुड के कई नामचीन स्टार्स ने इस मूवमेंट को सपोर्ट किया है। 
 

Sadhguru Save Soil Movement  celebs supporting movement mda
Author
Bengaluru, First Published Jun 28, 2022, 4:50 PM IST

नई दिल्ली. सद्गुरू की 100 दिन की सेव स्वायल (Save Soil Movement) यात्रा कावेरी बेसिन में सफलतापूर्वक समाप्त हुई। इस दौरान इस यात्रा ने दुनिया भर में Save Soil का संदेश को पहुंचाया। इससे हजारों लोग मूवमेंट से जुड़े। इस अभियान में वैज्ञानिकों से लेकर पालिसी मेकर, चुने गए जनप्रतिनिधि, सरकार और सेलिब्रिटीज ने समर्थन दिया है। यहव यात्रा करीब 3.9 बिलियन लोगों तक पहुंची। 

किन सितारों ने दिया समर्थन
पिछले 100 दिनों में नामचीन एक्टर जैसे अजय देवगन, रनबीर कपूर, आर माधवन, अनुपम खेर, कंगना रानौत, प्रेम चोपड़ा, मौनी राय, जूही चावला, मनीषा कोईराला ने मूवमेंट को सपोर्ट किया। वहीं सिंगर सोनू निगम, श्रेया घोषाल, दिलजीत दोसांझ और मालूमा ने समर्थन दिया है। क्रिकेटर्स में हरभजन सिंह, मैथ्यू हेडेन, एबी डिविलियर्स, विवियन रिचर्ड्स के अलावा कई क्षेत्रों की जानी मानी हस्तियों ने सेव स्वायल मूवमेंट को समर्थन दिया है।

किसने क्या दिया संदेश
सद्गुरू की यात्रा जब मुंबई पहुंची तो एक्टर सिद्धार्थ मल्होत्रा ने भी अपनी बात कही। उन्होंने कहा कि वे सद्गगुरू की बातें और वीडियो कई वर्षों से फालो कर रहे हैं। कहा कि मुझे उम्मीद है कि जैसे-जैसे दिन और साल बीतते रहेंगे मैं इस काम से जुड़ता रहूंगा। मैं अपनी अंगुलियों के माध्यम से सोशल मीडिया पर सेव स्वायल का मैसेज देता रहूंगा। इसी तरह बालीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत ने भी मूवमेंट को सपोर्ट किया और कहा कि सद्गुरू की यह 100 दिन की यात्रा कई बदलाव लाने वाली है। कंगना ने यात्रा के समापन अवसर पर ईशा योग सेंटर के आदियोगी कार्यक्रम में मौजूद रहने का वादा किया है। उन्होंने कहा कि यह तो अभी बस शुरूआत है। कहा कि मुझे पूरा विश्वास है कि यह यात्रा पूरी दुनिया में सोच बदलने में सहायक होगी और परिवर्तन दिखाई देगा।

Sadhguru Save Soil Movement  celebs supporting movement mda

शिल्पा शेट्टी ने दिया खास मैसेज
इस मौके पर अभिनेत्री तमन्ना भाटिया भी मौजूद रहीं। उन्होंने इस मूवमेंट को ऐतिहासिक करार देते हुए कहा कि सेव स्वायल सिर्फ मेरे या आपके लिए नहीं है बल्कि यह आने वाली पीढ़ियों के लिए है। यदि हम इसे आज ही शुरू नहीं करेंगे तो आगे चलकर बहुत देकर हो जाएगी। तब लौटना मुश्किल हो जाएगा। यदि हम अभी यह काम करते हैं तो भविष्य सुरक्षित होगा। तब हम शांति से जिएंगे और किसी तरह के युद्ध का खतरा नहीं होगा। भूल-भुलैया दो के स्टार कार्तिक आर्यन और कियारा आडवाणी ने कहा कि हम साथ मिलकर इस मूवमेंट को सपोर्ट करते हैं। दोनों एक्टर्स ने कहा कि यह जर्नी लोगों को आपस में जोड़ती है। मानव जीवन और मिट्टी के बीच तालमेल को बढ़ाने वाली है। अपनी फिटनेस के लिए पहचानी जाने वाली एक्ट्रेस और इंटरप्रेन्योर शिल्पा शेट्टी ने यह ध्यान दिलाया कि हमारे खाने पीने की चीजों में से नरिशमेंट कम होता जा रहा है। इसका कारण मिट्टी की कमजोरी है, जो आर्गेनिक नहीं रह गई है। शिल्पा ने मूवमेंट को सपोर्ट किया और कहा कि मैं एक हेल्दी प्लैनेट बनाना चाहती हूं। जो सिर्फ मेरे लिए ही न हो बल्कि आने वाली पीढ़ियों के लिए हो। इसलिए यह हम सभी की जिम्मेदारी बनती है कि अपनी मिट्टी को फिर से उर्वरा बनाएं। आइए हम सभी मिलकर धरती के लिए काम करें।

विजय ने भविष्य की तस्वीर दिखाई
टालीवुड एक्टर विजय देवरकोंडा ने कहा कि यूनाइटेड नेशंस का मानना है कि यदि हमने जल्दी ही कोई कदम नहीं उठाया तो 60 साल से भी कम समय में हमारी मिट्टी, रेत में बदल जाएगी। मिट्टी न होने का मतलब है कि अनाज न होना। यही वह समय है जब हम सभी को एक साथ आकर मिट्टी बचानी चाहिए। विजय ने इस अभियान को पूरा सपोर्ट करने की बात भी कही। फिल्म एक्टर सोनू सूद ने भी कुछ ऐसे ही विचार व्यक्त किए।

Sadhguru Save Soil Movement  celebs supporting movement mda

सद्गुरू ने भी किया संबोधित
मुंबई के जियो कन्वेंशन सेंटर में सद्गुरू ने करीब 10 हजार लोगों को संबोधित किया। सिंगर मीत ब्रो और खुश्बू ग्रिवाल ने बंदेया सेव स्वायल सांग पेश किया। टी सीरीज की ओर से जारी एलबम बंदेया में मीत ब्रोज फीट, सद्गुरू एंड सैचे-परंपरा के गाए गीत हैं। सभी गाने रश्मि विराग ने लिखे हैं और संगीत मीत ब्रोज ने दिए हैं। कार्यक्रम के बाद खुश्बू ग्रिवाल ने सेव स्वायल का मैसेज अपने सोशल मीडिया फालोवर्स को दिए। 

100 दिन की यात्रा हुई समाप्त
सद्गगुरू की 100 दिनों की सेव स्वायल यात्रा 21 जून को कावेरी बेसिन में समाप्त हुई। इस दौरान लोगों का लगातार सपोर्ट मिलता रहा। इस अभियान की सफलता अगले कुछ दिनों में सामने आने लगेगी। अगले कुछ महीनों में सद्गुरू यूनाइटेड किंगडम, अमेरिका, दक्षिण अमेरिका, कैरिबियाई देश सहित करीब 20 देशों की यात्रा करेंगे। जिसमें यही संदेश दिया जाएगा। सद्गुर की यह जर्नी 21 मार्च को लंदन से शुरू हुई। करीब 27 यूरोपीय देशों से होते हुए यह यात्रा मध्य एशिया, मिडिल इस्ट भी पहुंची। अभी तक कुल 74 देशों ने सेव स्वायल का समर्थन किया है। वहीं भारत के करीब 9 राज्यों  ने ईशा आउटरीच के साथ एमओयू साइन किया है। इन राज्यों में गुजरात, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश और कर्नाटक शामिल हैं। 

यह भी पढ़ें

Save Soil Movement: मिट्टी के बारे में वो 15 महत्वपूर्ण फैक्ट जो सभी को जानना चाहिए
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios