Asianet News Hindi

लव जिहाद की शिकार हुई थी शीला दीक्षित की बेटी, जान से मारना चाहता था पति

दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का आज निधन हो गया। कार्डियक अरेस्ट के बाद उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया, जिसके कुछ देर बाद उनका निधन हो गया। शीला दीक्षित की पर्सनल लाइफ की ऐसी कई बातें हैं, जो कंट्रोवर्सी में शामिल है। 

Sheila dikshit daughter latika was victim of love jihad
Author
Delhi, First Published Jul 20, 2019, 5:41 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली: तीन बार मुख्यमंत्री रही शीला दीक्षित के निधन के बाद देश में शोक की लहर है। उन्होंने अपनी पूरी जिंदगी राजनीति को समर्पित कर दी। लेकिन इतने पावरफुल पोजीशन पर रहने के बावजूद उनकी बेटी को काफी कुछ सहना पड़ा। 

आईपीएस अधिकारी विनोद दीक्षित की पत्नी शीला की एक बेटी और एक बेटा है। शीला दीक्षित की बेटी लतिका ने मुस्लिम युवक सईद मोहम्मद इमरान से शादी की थी। दोनों ने 1996 में लव मैरिज की थी। लेकिन बाद में लतिका ने अपने पति पर जान से मारने की कोशिश करने का इल्जाम लगाया था।  

लतिका ने पुलिस में दर्ज करवाए अपने बयान में कहा था कि शादी के बाद सबकुछ ठीक थे। लेकिन 2013 में जब शीला दीक्षित सत्ता हार गई, उसके बाद सईद के असली रंग नजर आए। सईद आए दिन लतिका को मारता था। एक बारे तो उसने लतिका का गला दबाकर उसकी हत्या करने की भी कोशिश की थी। 

लतिका ने अपने पति पर कई महिलाओं से प्रेम सम्बन्ध का भी आरोप लगाया था। सईद ने अपनी सास के पोजीशन का भरपूर फायदा उठाया था। जब शीला दीक्षित सीएम थीं, तब सईद उनके नाम पर पूरी दिल्ली में अपनी धौंस जमाता था। उसने कई प्रोजेक्ट्स भी शीला दीक्षित के नाम पर हासिल किये थे। विपक्ष ने इस मुद्दे को कई बार उठाया, लेकिन जल्द ही सारा मामला दबा दिया जाता था।  

पुलिस ने लतिका के बयान पर मुकदमा दर्ज कर सईद को गिरफ्तार किया था। उसपर घरेलू हिंसा और हत्या की कोशिश का मुकदमा दर्ज किया गया था। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios