वडोदरा.  गुजरात की आठ विधानसभा सीटों पर 3 नवंबर को उप चुनाव है। इससे पहले शुक्रवार को केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी उपचुनावों के लिए प्रचार करने पहुंची। उन्होंने यहां कांग्रेस और पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी पर जमकर निशाना साधा। वडोदरा में रैली के दौरान स्मृति ईरानी ने सोनिया गांधी का नाम लिए बगैर कहा, जिसके दामाद किसानों की जमीन खा जाएं, वे दूसरे किसानों की जमीन क्या खाक बचाएंगे।

स्मृति ईरानी ने कहा, मैं कहना चाहती हूं जिस कांग्रेस पार्टी की सालों सालों तक राजनीति रही कि लूटों भारत की तिजोरी को या भारत के किसानों। ऐसे लोगों का साथ ना दें। भाजपा को वोट दें।

 


'कांग्रेस एक डूबता जहाज'
इससे पहले स्मृति ईरानी गुजरात के मोरबी में चुनाव प्रचार करने पहुंचीं। यहां उन्होंने कांग्रेस को एक डूबता हुआ जहाज बताया। ईरानी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस अपने फायदे के लिए किसान और उनके मुद्दे का इस्तेमाल कर रही है। राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए स्मृति ईरानी ने कहा, ये कोई नहीं बता सकता कि वे कब छुट्टियां मनाने चले जाएं। 
 
'कांग्रेस फैसला करे कि उनका नेता कौन'
केंद्रीय मंत्री ने कहा, कांग्रेस को यह फैसला करने की जरूरत है कि उनका नेता कौन है। वह एक शख्स है या एक परिवार? उन्होंने कहा, राजनीति में, अगर आप एक परिवार के मोह में अंधे हैं तो गरीबों और मध्यमवर्ग के नागरिकों का दुख नहीं समझ सकते। क्योंकि कांग्रेस एक डूबता जहाज है, इसलिए मुझे आश्चर्य है कि वह मोरबी के लोगों की मदद कैसे कर पाएगी?