नई दिल्ली. कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफ कर्नाटक के शिवमोगा में एफआईआर दर्ज की गई है। सोनिया गांधी पर आरोप है कि उन्होंने पीएम केयर फंड को लेकर दुष्प्रचार किया। बता दें कि 11 मई को कांग्रेस के ट्विटर हैंडल से पीएम केयर फंड को लेकर बेबुनियाद जानकारी फैलाने का आरोप लगाया गया है।

कर्नाटक में दर्ज हुई एफआईआर

एफआईआर प्रवीण केवी नाम के शख्स ने कर्नाटक के शिवमोगा में दर्ज कराई है। एफआईआर में सोनिया और कांग्रेस के दूसरे नेताओं के खिलाफ कारर्वाई की मांग की गई है। हालांकि अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि किस ट्वीट को लेकर यह एफआईआर दर्ज करवायी गई है।

सोनिया गांधी ने पीएम मोदी को लिखी थी चिट्ठी

सोनिया गांधी ने पीएम मोदी को चिट्ठी लिखा था, जिसमें कहा था, जनता के सेवा के फंड के वितरण के लिए दो अलग-अलग मद बनाना संसाधनों की बर्बादी है। पीएम-एनआरएफ में लगभग 3800 करोड़ रु. की राशि बिना उपयोग के पड़ी है। यह फंड तथा पीएम-केयर्स की राशि को मिलाकर उपयोग में लाकर समाज में हाशिए पर रहने वाले लोगों को तत्काल खाद्य सुरक्षा चक्र प्रदान किया जाए।

शिकायतकर्ता प्रवीण पेशे से वकील हैं

शिकायतकर्ता प्रवीण केवी वकील के साथ-साथ भाजपा कार्यकर्ता भी है। एफआईआर में दावा किया गया है कि 11 मई को कांग्रेस पार्टी ने सोशल मीडिया पर पीएम केअर्स फंड को लेकर गलत दावे पेश किए और केंद्र सरकार पर झूठे आरोप लगाए।

सोनिया गांधी पर किन धाराओं पर एफआईआर

शिकायत के आधार पर सोनिया गांधी के खिलाफ आईपीसी की धारा 153, 505 के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। वकील प्रवीण ने अपनी शिकायत में सोनिया गांधी के खिलाफ जल्द कानूनी कार्रवाई की भी मांग की है।