Asianet News HindiAsianet News Hindi

दोस्तों ने प्राइवेट पार्ट में डाल दिया स्टील का ग्लास, 10 दिन बाद डॉक्टरों ने सर्जरी कर बचाई जान

पार्टी के दौरान नशे में धुत्त होने के बाद दोस्तों ने 45 साल के एक व्यक्ति के प्राइवेट पार्ट में स्टील का ग्लास डाल दिया था। घटना के 10 दिन बाद डॉक्टरों ने सर्जरी कर ग्लास निकाला और उसकी जान बचाई। 
 

Steel glass inserted inside man private parts by friends removed surgically after 10 days vva
Author
Bhubaneswar, First Published Aug 22, 2022, 1:31 PM IST

भुवनेश्वर। ओडिशा से एक चौंकाने वाली खबर आई है। यहां दोस्तों ने पार्टी के दौरान एक आदमी के प्राइवेट पार्ट में स्टील का ग्लास डाल दिया। घटना के दस दिन बात रविवार को बेरहमपुर के एमकेसीजी मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (MKCG Medical College and Hospital) के डॉक्टरों ने ऑपरेशन कर उसके आंत में फंसे स्टील ग्लास को निकाला।

पीड़ित व्यक्ति की उम्र 45 साल है। वह गुजरात के सूरत में काम करता है। दस दिन पहले उस व्यक्ति ने अपने दोस्तों के साथ पार्टी की थी। वह नशे में धुत्त था तभी दोस्तों ने उसके  anus में ग्लास डाल दिया था। प्राइवेट पार्ट में ग्लास डाले जाने के दूसरे दिन से ही पीड़ित को पेट के निचले हिस्से में दर्द होने लगा था। उसने अपने परिवार के लोगों को घटना के बारे में शुरू में नहीं बताया। दर्द जब बर्दाश्त से बाहर हो गया तब वह सूरत से अपने गांव गंजम लौटा। इतने दिनों में उसकी आंत में सूजन आ गया था। परिवार के लोगों के कहने पर वह इलाज के लिए एमकेसीजी मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल पहुंचा। 

एक्स-रे रिपोर्ट में दिखा ग्लास
चेकअप के बाद डॉक्टरों ने एक्स-रे टेस्ट कराने की सलाह दी। एक्स-रे रिपोर्ट में साफ-साफ दिख रहा था कि उसके आंत में एक ग्लास है। डॉक्टरों ने पहले ग्लास को रेक्टम के रास्ते बाहर निकालने की कोशिश की, लेकिन वे सफल नहीं हुए। इसके बाद मरीज को सर्जरी कराने की सलाह दी गई। 

यह भी पढ़ें- Money laundering case: 5 सितंबर तक जेल में रहेंगे शिवसेना नेता संजय राउत, स्पेशल कोर्ट ने बढ़ाई कस्टडी

अस्पताल के सर्जरी विभाग के हेड प्रोफेसर चरण पांडा के निर्देश पर डॉक्टरों की एक टीम गठित की गई। असिस्टेंट प्रोफेसर संजीत कुमार नायक, डॉ सुब्रत बराल, डॉ सत्यस्वरूप और डॉ प्रतिभा सहित डॉक्टरों की एक टीम ने सर्जरी की। डॉक्टरों ने आंत काटकर स्टील का गिलास निकाला। सर्जरी के बाद पीड़ित की सेहत में सुधार हो रहा है।

यह भी पढ़ें-  पाकिस्तानी जासूस अरेस्ट:6 साल से भारतीय नागरिकता लेकर दिल्ली में रह रहा था, दिखावे के लिए करता था मजदूरी

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios