Asianet News Hindi

पीठ पर बांस की टोकरी और पैदल 12 किमी. का सफर... कुछ ऐसी जिंदगी गुजारता है यह IAS अधिकारी

मेघालय में एक आईएस अधिकारी लोगों को पैदल चलने के लिए प्रेरित कर रहा है। ताकि वे फिट रह सकें। वेस्ट गारो हिल्स के डिप्टी कमिश्नर राम सिंह न केवल हर दिन सुबह टहलने जाते हैं, बल्कि हफ्ते में दो से तीन बार सब्जी खरीदने के लिए 10 किलोमीटर तक पैदल चलते हैं। । बाजारों से जैविक सब्जियां लाते हैं। 

The photo of Meghalaya's IAS officer went viral. He walks 10 km every morning
Author
New Delhi, First Published Sep 25, 2019, 2:06 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

गुवाहाटी. मेघालय में एक आईएस अधिकारी लोगों को पैदल चलने के लिए प्रेरित कर रहा है। ताकि वे फिट रह सकें। वेस्ट गारो हिल्स के डिप्टी कमिश्नर राम सिंह न केवल हर दिन सुबह टहलने जाते हैं, बल्कि हफ्ते में दो से तीन बार सब्जी खरीदने के लिए 10-12 किलोमीटर तक पैदल चलते हैं और बाजार से जैविक सब्जियां लाते हैं। इतना ही नहीं सब्जी के अलावा बाजार से दूसरे सामान लाने के लिए पारंपरिक बांस की टोकरी का इस्तेमाल करते हैं, जिसे वे खुद घर से ले जाते हैं। 

ट्रैफिक और पार्किंग से बचना चाहते हैं

- राम सिंह ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा, "ऑर्गेनिक सब्जी की खरीदारी, कोई प्लास्टिक, कोई वाहन प्रदूषण, कोई ट्रैफिक जाम नहीं। फिट इंडिया, फिट मेघालय, जैविक, स्वच्छ वातावरण। 10 किमी की सुबह की सैर। उन्होंने कुछ तस्वीरें भी पोस्ट कीं, जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं.

- उन्होंने एक अखबार को बताया कि उनके वॉकथॉन के पीछे की वजह ट्रैफिक और वाहन पार्किंग से बचना और फिट रहना है। पिछले छह महीने से वे ऐसा कर रहे हैं। कभी-कभी अपनी पत्नी के साथ जाते हैं। 

- उन्होंने कहा कि हमारे पास बहुत अधिक ट्रैफिक जाम और पार्किंग के मुद्दे हैं। फिर प्लास्टिक का मुद्दा है। इसलिए इन्हें निपटाना चाहिए। बांस की टोकरियों का उपयोग करें।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios