Asianet News Hindi

महाराष्ट्र की उद्धव सरकार का बड़ा फैसला, कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट दिखाए बिना नहीं होगी राज्य में इंट्री

महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार ने राज्य में कोरोना वायरस की स्थिति को देखते हुए सोमवार को बड़ा फैसला लिया है। इसके अनुसार अब दिल्ली, राजस्थान, गुजरात और गोवा, इन चार राज्यों से महाराष्ट्र आने वाले लोगों को राज्य में प्रवेश के लिए कोविड-19 निगेटिव रिपोर्ट दिखानी पड़ेगी। 

Uddhav government of Maharashtra taking big decision there will not be entry in the state without showing the report of corona test kpl
Author
Mumbai, First Published Nov 23, 2020, 8:37 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार ने राज्य में कोरोना वायरस की स्थिति को देखते हुए सोमवार को बड़ा फैसला लिया है। इसके अनुसार अब दिल्ली, राजस्थान, गुजरात और गोवा, इन चार राज्यों से महाराष्ट्र आने वाले लोगों को राज्य में प्रवेश के लिए कोविड-19 निगेटिव रिपोर्ट दिखानी पड़ेगी। बिना निगेटिव रिपोर्ट के राज्य में प्रवेश नहीं मिल सकेगा। हालांकि, जिन लोगों के पास प्रदेश में प्रवेश के समय निगेटिव रिपोर्ट उपलब्ध नहीं होगी, उनके लिए भी राज्य सरकार ने व्यवस्था की है।

राज्य सरकार द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि दिल्ली, राजस्थान, गुजरात और गोवा से राज्य में आने वाले लोगों की कोविड-19 लक्षणों के लिए जांच करेगी और जिनमें लक्षण नहीं होंगे, केवल उन्हें ही प्रवेश की अनुमति दी जाएगी। राज्य सरकार ने कहा है कि निगेटिव रिपोर्ट के साथ ही महाराष्ट्र आने वाले सभी लोगों को कोविड-19 को लेकर निर्धारित किए गए सभी दिशा-निर्देशों का पालन करना होगा। मास्क नहीं लगाए हुए पकड़े जाने पर जुर्माना भी देना होगा। इसके साथ ही राज्य सरकार दिल्ली से आने वाली ट्रेनों और उड़ानों पर प्रतिबंध लगाने पर भी विचार कर रही है।

एक और लॉकडाउन पर विचार कर रही ठाकरे सरकार
दिल्ली समेत चार राज्यों से महाराष्ट्र आने वाले लोगों के लिए कोरोना निगेटिव रिपोर्ट लगाने का फैसला लेने के साथ राज्य सरकार एक और लॉकडाउन लगाने पर भी विचार कर रही है। राज्य के राहत एवं पुनर्वास मंत्री विजय वडेत्तिवार ने सोमवार को कहा कि सरकार अगले आठ दिनों में इस बात पर फैसला लेगी कि कोविड के बढ़ते मामलों पर रोक लगाने के लिए प्रतिबंध लगाए जाएंगे या पूर्ण लॉकडाउन लागू किया जाएगा।

8-10 दिनों में हो जाएगा लॉकडाउन पर फैसला 
उन्होंने कहा कि लोगों की जान बचाने के लिए इस तरह के निर्णय लेने ही होंगे। मंत्री ने कहा, 'अगर जरूरत पड़ी तो पूरे अध्ययन के बाद अगले आठ दिनों में यह निर्णय लिया जाएगा कि पूर्ण लॉकडाउन लगाने की जरूरत है या कुछ प्रतिबंधों से काम चल सकता है।' इससे पहले महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री अजित पवार ने भी रविवार को कहा था कि राज्य में लॉकडाउन लगेगा या नहीं इस पर आने वाले आठ से 10 दिन में फैसला लिया जाएगा। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios