Asianet News HindiAsianet News Hindi

उन्नाव दुष्कर्म मामले में सीबीआई ने विधायक कुलदीप सिंह के घर समेत 17 ठिकानों पर छापेमारी की

साल 2017 में उन्नाव में एक युवती ने विधायक कुलदीप सिंह सेंगर और उनके भाइयों पर गैंगरेप का केस दर्ज कराया था। मामले की जांच सीबीआई कर रही है।

Unnao case, CBI is conducting raids at MLA Kuldeep Sengar residence and other places
Author
Lucknow, First Published Aug 4, 2019, 3:21 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ. उन्नाव दुष्कर्म मामले में सीबीआई ने रविवार को चार जिलों में 17 जगहों पर ताबड़तोड़ छापेमारी की। सीबीआई टीम फतेहपुर, बांदा, लखनऊ के अलावा उन्नाव में विधायक के घर व सीतापुर जेल भी पहुंची। ऑपरेशन जारी रहने के कारण अभी जगहों का खुलासा नहीं किया गया है। टीम ने ट्रक मालिक देवेंद्र पाल से रविवार को पूछताछ की है। ट्रक मालिक ने खुद को बेकसूर बताया है। 

विधायक कुलदीप सिंह सेंगर से भी हुई पूछताछ
सीबीआई टीम ने शनिवार को सीतापुर जेल में आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर से करीब छह घंटे तक पूछताछ की। सीबीआई की तीन सदस्यीय टीम दोपहर करीब करीब दो बजे एक प्राइवेट गाड़ी से जेल पहुंची। यहां टीम ने विधायक के पास पहुंच कर अपनी जांच प्रक्रिया शुरू की। टीम ने विधायक से दुष्कर्म पीड़िता के साथ हुए सड़क हादसे के बारे में भी सवाल-जवाब किए। साथ ही कुछ अन्य पहलुओं पर जांच की। विधायक से अकेले में टीम ने कई तरह की जानकारियां हासिल कीं। सीबीआई टीम के पहुंचने के करीब 35 मिनट बाद जेल अधीक्षक डीसी मिश्रा भी अपने आवास से जेल पहुंचे। टीम ने जेल के सीसीटीवी फुटेज तलब किया है। टीम जानना चाहती है कि, विधायक से कौन-कौन मिलने आता था। 

यह है पूरा मामला
साल 2017 में उन्नाव के माखी गांव की रहने वाली एक युवती ने विधायक कुलदीप सिंह सेंगर और उनके भाइयों पर गैंगरेप का केस दर्ज कराया था। जिस मामले की जांच सीबीआई कर रही है। वहीं, 30 जुलाई को रायबरेली में हुए एक हादसे में उन्नाव दुष्कर्म कांड की पीड़िता और उसका वकील बुरी तरह घायल हो गया था, जबकि पीड़िता की चाची व मौसी की मौत हो गई थी। चाची दुष्कर्म मामले की मुख्य गवाह थीं। पीड़िता व उनके वकील का इलाज केजीएमयू लखनऊ में चल रहा है। हालत नाजुक बनी हुई है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios