Asianet News Hindi

शरीर में बॉडी वार्न कैमरा पहनेंगे यूपी के जेल कर्मी, राष्ट्रपति ने दी पायलट प्रोजेक्ट को मंजूरी

देश में यूपी समेत चार राज्यों के जेल कर्मचारी अब बॉडी वार्न कैमरा पहन कर ड्यूटी करेंगे। इस अहम पायलट प्रोजेक्ट को राष्ट्रपति राम नाथ कोविद की ओर से मंजूरी दे दी गई है। इसके लिए सूबे को 80 लाख रूपए की धनराशि भी दी जाएगी।

UP jail staff to wear body warnered camera President approves pilot project kpl
Author
New Delhi, First Published Sep 24, 2020, 10:34 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. देश में यूपी समेत चार राज्यों के जेल कर्मचारी अब बॉडी वार्न कैमरा पहन कर ड्यूटी करेंगे। इस अहम पायलट प्रोजेक्ट को राष्ट्रपति राम नाथ कोविद की ओर से मंजूरी दे दी गई है। इसके लिए सूबे को 80 लाख रूपए की धनराशि भी दी जाएगी। राष्ट्रपति द्वारा इस पायलट प्रोजेक्ट की मंजूरी मिलने के बाद अब यूपी के जेल महकमा भी हाईटेक होने जा रहा है। ऐसे में राष्ट्रपति द्वारा मंजूर किए गए इस प्रोजेक्ट से जेल कर्मचारी काफी उत्साहित हैं।

यूपी के जेल महानिदेशक कार्यालय की ओर से किए गए एक ट्वीट के मुताबिक यूपी के महानिदेशक जेल आनन्द  कुमार निरंन्तर ये प्रयास कर रहे हैं कि जेल में बंद बन्दियों के व्यवहार का वैज्ञानिक विधि से अध्ययन करके उन्हें आत्मनिर्भर और उपयोगी नागरिक के रूप में समाज को लौटाया जाए। इसके लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। ऐसे में राष्ट्रपति द्वारा स्वीकृत किया गया ये पायलट प्रोजेक्ट इस कर में मील का पत्थर साबित होगा।

यूपी समेत 4 राज्यों के लिए मंजूर हुआ प्रोजेक्ट 
सुरक्षाकर्मी अब जेलों में बॉडी वार्म कैमरे पहनकर ड्यूटी करेंगे। जिनके जरिए कैदियों के व्यवहार की रिकॉर्डिंग होगी। फिर मनोवैज्ञानिक, विधि फॉरेंसिक की मदद से लोगों को समाज की मुख्य धारा से जोड़ने का प्रयास किया जाएगा। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने देश के चार राज्य यूपी के अलावा राजस्थान, तेलंगाना, पंजाब में इस प्रोजेक्ट को शुरू किया है। इस पायलट प्रोजेक्ट के तहत बॉडी पेन कैमरा प्रयोग किए जाने के लिए धनराशि की मंजूरी दी गई है। इसके लिए 80 लाख धनराशि मिली है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios