Asianet News HindiAsianet News Hindi

CAA के खिलाफ लगातार जारी हैं हिंसक प्रदर्शन, दिल्ली में भी पुलिस से भिड़े प्रदर्शनकारी

सभी नेताओं ने लोगों से हिंसा में शामिल ना होने की अपील की है। इसके बावजूद प्रदर्शनकारी दिल्ली में पुलिस से भिड़ गए। पहले आगजनी करने के बाद प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पत्थर भी फेके हैं।  

Violent protests against CAA continue, protests against police in Delhi KPB
Author
New Delhi, First Published Dec 15, 2019, 9:03 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. नागरिकता कानून के खिलाफ देश भर में विरोध लगातार बढ़ता जा रहा है। उत्तर पूर्वी राज्यों से शुरु हुआ विरोध प्रदर्शन देश की राजधानी दिल्ली और दक्षिण भारत के राज्यों तक पहुंच चुका है। सरकार हिंसा को रोकने का हर संभव प्रयास कर रही है, पर सरकार की हर कोशिश बेकार हो रही है। उत्तर पूर्व के राज्यों में कर्फ्यू लगने के बाद दिल्ली के हालात भी बिगड़ रहे हैं। सभी नेताओं ने लोगों से हिंसा में शामिल ना होने की अपील की है। इसके बावजूद प्रदर्शनकारी दिल्ली में पुलिस से भिड़ गए। पहले आगजनी करने के बाद प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पत्थर भी फेके हैं।  

उत्तर पूर्व राज्यों के विद्यार्थियों ने किया दिल्ली में प्रदर्शन 
पूर्वोत्तर राज्यों के विद्यार्थियों ने नागरिकता संशोधन अधिनियम को ‘संविधान विरोधी’ और क्षेत्र के मूल लोगों के लिए खतरा करार देते हुए रविवार को यहां जंतर मंतर पर उसके खिलाफ प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने नागरिकता (संशोधन) अधिनियम को निरस्त करने की मांग की। उन्होंने दावा किया कि यह कानून 1985 की असम संधि की भावना के विरूद्ध है।

केजरीवाल ने किया प्रदर्शन का विरोध 
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उपराज्यपाल अनिल बैजल से बात की और उनसे रविवार को दक्षिण दिल्ली में नागरिकता संशोधन अधिनियम के खिलाफ हिंसक प्रदर्शनों के बाद सामान्य स्थिति बहाल करने के लिए हरसंभव कदम उठाने का अनुरोध किया। केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार शांति बहाल करने के लिए अपनी ओर से हरसंभव कोशिश कर रही है। मुख्यमंत्री ने ट्वीट किया, ‘‘माननीय उपराज्यपाल से बात की और उनसे सामान्य स्थिति एवं शांति बहाल करने के लिए हरसंभव कदम उठाने का आग्रह किया। हम अपनी ओर से हरसंभव कोशिश कर रहे हैं। हिंसा करने वाले असली बदमाशों की पहचान होनी चाहिए और उन्हें सजा मिलनी चाहिए।’’ एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा कि किसी भी तरह की हिंसा अस्वीकार्य है। उन्होंने कहा, ‘‘किसी को भी हिंसा में शामिल नहीं होना चाहिए। किसी भी तरह की हिंसा स्वीकार्य नहीं है। प्रदर्शन शांतिपूर्ण होने चाहिए।’’

लगातार हो रहे हिंसक प्रदर्शन 
पुलिस ने बताया कि रविवार दोपहर को प्रदर्शनकारियों की पुलिस से झड़प हो गई और उन्होंने न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी में तीन सार्वजनिक बसों और दमकल की एक गाड़ी में आग लगा दी। इसमें एक पुलिसकर्मी और दो दमकलकर्मी घायल हो गए।

 

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios