Asianet News HindiAsianet News Hindi

योगी के मंत्री को आया गुस्सा, अफसरों से कहा, मुर्गा बनाकर पीठ पर ईंट लाद दूंगा

औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना अपने अफसरों पर भड़क उठे। जिसमें उन्होंने जाजमऊ गंगा पुल और हाईवे की खस्ता हालत पर एनएचएआई अफसर को मुर्गा बनाकर पीठ पर ईंट लादने तक की चेतावनी दे दी। बैठक में प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जयप्रकाश सिंह भी शामिल हुए।

Yogi's minister got angry, told the officers, he would make a cock and put a brick on the back
Author
Lucknow, First Published Nov 26, 2019, 1:48 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ. उत्तर प्रदेश सरकार के औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना उस वक्त अपने अफसरों पर आगबबूला हो गए जब वह विकास कार्यों की समीक्षा बैठक कर रहे थे। बताया जा रहा कि इस दौरान वह अफसरों की लापरवाही देख भड़क उठे। जिसमें मंत्री जी ने जाजमऊ गंगा पुल और हाईवे की खस्ता हालत पर एनएचएआई अफसर को मुर्गा बनाकर पीठ पर ईंट लादने तक की चेतावनी दे दी। बैठक में प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जयप्रकाश सिंह भी शामिल हुए। सतीश महाना ने स्वास्थ्य मंत्री के सामने ही डेंगू के मुद्दे पर सीएमओ की भी क्लास लगा दी। उन्होंने सीएमओ से साफ कहा कि वह अपना ट्रांसफर करा लें, वरना निलम्बित करा दूंगा। बैठक में जाजमऊ गंगा पुल, हाईवे और डेंगू मुख्य मुद्दा रहे। बैठक शुरू होते ही महाना ने एनएचएआई इंजीनियर/प्रोजेक्ट मैनेजर संजय आनंद से पूछताछ शुरू कर दी। जिसमें संतोषजनक जवाब न मिलने पर उनका गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया। 

मंत्री और जिलाधिकारी दोनों भड़कें

उन्होंने प्रोजेक्ट मैनेजर से पूछा, क्या आपने हाईवे का हाल देखा है? टोल प्लाजा पर रुपए तो पूरे वसूले जा रहे हैं। जरा हालत पर भी गौर कर लें। फिर सवाल किया, जाजमऊ गंगा पुल की हालत देखी है? शहर में घुसते ही लोगों को समझ आ जाता है कि यह शहर कैसा है। लोग आपको नहीं जानते, मगर मुझे जानते हैं। इसके बाद मंत्री बोले, मन करता है मुर्गा बनाकर पीठ पर दो ईंट लाद दूं। जब पुल गिर जाएगा, तब होश आएगा। यदि काम करने का मन न हो तो अपना ट्रांसफर करा लो। एनएचएआई की लापरवाही पर बैठक में मौजूद डीएम भी भड़क उठे। उन्होंने कहा कि आपको पहले भी कई बार अवगत कराया जा चुका है कि पुल की हालत खराब है। इसके बावजूद आपकी ओर से कोई कार्रवाई नहीं की जा रही। 

सीएमओ से कहा- ट्रांसफर करा लो 

विकास कार्यों की समीक्षा बैठक के दौरान कैबिनेट मंत्री ने सीएमओ डॉ. अशोक शुक्ला से डेंगू और संक्रामक रोगों पर जवाब तलब किए। पूछा, आप मौतों के गलत आंकड़े क्यों दे रहे हैं? सीएमओ ने कहा कि आंकड़े सही हैं तो मंत्री बिफर गए। उन्होंने कहा कि डेंगू से मौतें हो रही हैं, यह बात सही है। अन्य संक्रामक बीमारियों से जो मौतें हो रही हैं, उसे रोकने की जिम्मेदारी किसकी है? इसके बाद उन्होंने कहा, आपको कुछ नहीं मालूम। डेंगू से एक मौत होती है और आप कहते हैं कि महामारी फैल रही है। उसे लेकर आप प्रेसवार्ता भी कर देते हैं। मंत्री ने कहा, सीएमओ साहब! आपके मंत्री भी इस बैठक में उपस्थित हैं। अगर आपका जिले में काम करने का मन नहीं है तो इनसे रिक्वेस्ट करके अपना ट्रांसफर करा लें। वरना मैं आपको सस्पेंड करा दूंगा। इस पर स्वास्थ्य मंत्री ने भी सीएमओ को चेतावनी दी।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios