ट्रॉली बैग में छुपाकर ला रहा था अवैध सोना, कस्टम की नजर से नहीं बच पाया, ग्रीन चैनल पार करने से पहले धराया

| Dec 07 2022, 04:21 PM IST

ट्रॉली बैग में छुपाकर ला रहा था अवैध सोना, कस्टम की नजर से नहीं बच पाया, ग्रीन चैनल पार करने से पहले धराया

सार

चड़ीगढ़ एयरपोर्ट में दुबई से लौटे यात्री के पास से अवैध सोना कस्टम विभाग द्वारा प्राप्त किया गया है। इसकी खरीद की रसीद नहीं दिखाने पर टीम ने उसे गिरफ्तार कर पूछताछ कर रही है। गोल्ड की बाजार में कीमत करीब 10 लाख रुपए से ज्यादा की बताई जा रही है।

चंडीगढ़ ( chandigarh). हैरान करने वाला मामला पंजाब की राजधानी चंडीगढ़ जिले से सामने आया। दरअसल शहीद भगत सिंह अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर सोने की तस्करी की सीक्रेट इन्फो कस्टम विभाग को मिली थी। इसके आधार पर यहां एक यात्री को 10.21 लाख रुपये मूल्य के सोने के साथ पकड़ा गया। सीमा शुल्क विभाग ने बुधवार को आरोपी से पूछताछ कर पुलिस को सौंप दिया है। आरोपी यात्री दुबई से इंडिया लौटा था।

हरकतों पर शक हुआ, जांच की तो मिला छुपा हुआ सोना
मामले के बारे में जानकारी देते हुए कस्टम विभाग के अधिकारियों ने बताया कि दुबई से इंडिया लौटी फ्लाइट नंबर 6E-56 शाम के करीब 5 बजे चंडीगढ़ एयरपोर्ट पर आई। जिसमें से एक यात्री के पास गोल्ड होने की जानकारी मिली थी। कस्टम टीम ने उसे एयरपोर्ट पर लगे ग्रीन चैनल से पहले रोककर पूछताछ की तो वह सही से जवाब नहीं दे पाया। इसके बाद  उसकी तलाशी ली गई तो कुछ बरामद नहीं हुआ। जब उसके सामान को हाथ लगाया गया तो वह घबरा गया।

Subscribe to get breaking news alerts

ट्रॉली बैग में छिपा रखा था सोना, 10.21 लाख रुपए है कीमत
कस्टम अधिकारी वृंदबा गोहिल ने बताया कि उसके ट्रॉली बैग की तलाशी ली गई तो डबल साइड से चिपकाए हुए सोने के टुकड़े बरामद किए गए। जब कस्टम ने इसकी खरीद के कागज मांगे तो यात्री नहीं दिखा पाया इसके साथ ही उसने यह सोना कहां से खरीदा था यह भी नहीं बता पाया। जिसके बाद टीम ने सोना अपने पास जब्त कर रख लिया। इसके साथ ही आरोपी को अवैध तरीके से सोना लाने के लिए कस्टम अधिनियम 1962 के तहत अरेस्ट कर लिया गया। कस्टम विभाग ने जानकारी दी की करीब 187 ग्राम प्योर गोल्ड बरामद किया गया है, जिसकी बाजार कीमत लगभग 10.21 लाख रुपए है। 

कस्टम विभाग ने आरोपी से पूछताछ कर यह जानने की कोशिश कर रही है कि उसे सोना लाने के लिए किसने कहा था और उससे कहा मिल कर सामान लौटना था। पर आरोपी ने इस बारे में कुछ भी जानकारी नहीं है। टीम ने उसे पुलिस के हवाले कर दिया गया है। मामले की जांच की जा रही है।

यह भी पढ़े-