Asianet News Hindi

राहुल गांधी का मोदी सरकार पर हमला, कहा-पीएम ने भारत का 12 सौ स्क्वायर किमी चीन को देकर देश से झूठ बोला

'खेती बचाओ' आंदोलन के तहत तीसरे दिन मंगलवार को राहुल गांधी ने पंजाब के पटियाला में एक प्रेस वार्ता के दौरान मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा है। राहुल ने वार्ता में कृषि कानूनों को खाद्य सुरक्षा के मौजूदा ढांचे के खिलाफ बताया। राहुल ने भारत- चीन विवाद पर भी मोदी सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि पीएम ने चीन को भारत का 12 सौ स्क्वायर किमी भाग देकर देश की जनता से झूठ बोला है।

Farming movement: Rahul Gandhi's attack on the government, said-PM lied to the country by giving 1200 square km of India to China
Author
Patiala, First Published Oct 6, 2020, 12:44 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पटियाला. पटियाला. केंद्र सरकार के कृषि कानूनों को लेकर मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस मोर्चा खोल चुकी है। 'खेती बचाओ' आंदोलन के तहत तीसरे दिन मंगलवार को राहुल गांधी ने पंजाब के पटियाला में एक प्रेस वार्ता के दौरान मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा है। राहुल ने वार्ता में कृषि कानूनों को खाद्य सुरक्षा के मौजूदा ढांचे के खिलाफ बताया। उन्होंने कहा कि इन कृषि कानूनों का सबसे ज्यादा प्रभाव पंजाब के किसानों पर पड़ेगा। लेकिन इस लड़ाई में कांग्रेस पार्टी किसानों के साथ हैं। 

वार्ता के दौरान राहुल ने भारत-चीन सीमा विवाद पर कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सिर्फ अपनी छवि की चिंता है। पीएम ने अपनी छवि बचाने के लिए भारत के 12 सौ स्क्वायर किमी चीन को दे दिए और देश की जनता से झूठ बोला। इसके साथ ही राहुल ने हाथरस घटना पर कहा कि हाथरस गैंगरेप पीड़िता के परिवार से मैं सिर्फ इसलिए मिलने गया ताकि उन्हें ऐसा ना लगे कि उनके साथ कोई नहीं है। जिस तरह से उत्तर प्रदेश प्रशासन ने पीड़िता के परिवार को निशाना बनाया, उस पर पीएम मोदी ने एक शब्द तक नहीं बोला।

मोदी ने गरीबों के लिए एक कदम नहीं उठाया

राहुल गांधी ने कहा, यह सरकार पिछले 6 साल से गरीबों, मजदूरों और किसानों पर एक के बाद एक आक्रमण कर रही है। इनकी नीतियां एक भी ऐसी नहीं हैं, जो गरीब जनता को फायदा पहुंचा सके। सरकार पहले नोटबंदी लाई, फिर जीएसटी।उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने लॉकडाउन के दौरान छोटे और मध्यम उद्दोगों की मदद नहीं करके उनकी कमर तोड़ दी है। ये उद्दोग गरीब मजदूरों को रोजगार उपलब्ध कराते थे। राहुल के मुताबिक, उन्होंने केंद्र सरकार को कोरना महामारी के बारे में फरवरी 2020 में ही सचेत कर दिया था पर उन्होंने मेरा मजाक उड़ाया।

'संकट के वक्त क्यों लाए कानून' 

इससे पहले सोमवार को राहुल गांधी ने एक सभा के आयोजन में कहा था कि 'मैं आपसे पूछना चाहता हूं कि इस कानून को संकट के वक्त क्यों लाया गया। जल्दी किस बात की थी। इसलिए क्योंकि मोदी जी जानते हैं कि अगर किसान और मजदूर के पेट पर कुल्हाड़ी मारी जाए तो वो घर से बाहर नहीं निकल पाएगा।' राहुल ने कहा, मोदी जी इस सिस्टम को नष्ट कर रहे हैं।

किसान पर पड़ेगी मार: राहुल गांधी 

सोमवार की रैली में पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि 'वो ये मानते हैं कि किसानों की उपज खरीदने के लिए बने मौजूदा सिस्टम में खामी है, लेकिन इस सिस्टम को सुधारने की जरूरत है, इसे नष्ट करने की जरूरत नहीं है, क्योंकि अगर ये सिस्टम नष्ट हो गया तो किसानों के पास कुछ नहीं बचेगा और किसान को सीधा अंबानी और अडानी से बात करनी पड़ेगी और इस बातचीत में किसान मारा जाएगा।'

हरियाणा दौरे की तैयारी में राहुल

पंजाब के तीन दिवसीय दौरे के बाद राहुल गांधी हरियाणा सरकार के खिलाफ बड़े प्रदर्शन की तैयारी कर रहे हैं। राहुल गांधी 6 अक्टूबर को पेहवा की तरफ से होते हुए किसानों के साथ देवीगढ़ से हरियाणा में प्रवेश करने की कोशिश करेंगे। राहुल गांधी पेहवा से पीपली-निलोखेड़ी-कैथल और कुरुक्षेत्र होते हुए करनाल मंडी में अपनी यात्रा समाप्त करेंगे। लेकिन इस अभियान से राज्य की भाजपा सरकार के साथ राहुल की सीधे टकराव की स्थिति बन सकती है क्योंकि हरियाणा सरकार ने अभी साफ नहीं किया है कि वो किसानों के साथ राहुल गांधी को प्रवेश करने देंगे या नहीं। हांलाकि राज्य के मंत्री अनिल विज पहले ही कह चुके हैं कि कोरोना वायरस के मद्देनजर हमारी सरकार हरियाणा में कोई आयोजन नहीं होने देगी।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios