Asianet News HindiAsianet News Hindi

पूरे परिवार के लिए मौत बनकर आया पराली का धुआं, दादी की गोद में सोती रह गई पोती

यह दर्दनाक हादसा सोमवार रात करीब 12 बजे के आसपास हुआ है। कपड़ा कारोबारी हरीश अपने परिवार के साथ एक शादी में शामिल होकर घर लौट रहे थे। लेकिन आधी रात को हुए एक्सीडेंट में चारों की मौत हो गई। 

four family member killed in car accident punjab sangrur
Author
Sangrur, First Published Nov 5, 2019, 6:57 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

संगरूर (पंजाब). पूरे देश में इस समय पराली की चर्चा हो रही है। लेकिन इसके धुएं की वजह से पंजाब का एक पूरा परिवार को मौत की नींद सो गया। परिवार के चार लोग डस्टर कार से शादी समारोह से लौटकर आ रहा था। इसी दौरान धुध के कारण कार एक खडे़ कैंटर से जा टकराई और चारों की मौत हो गई।

खुशी-खुशी शादी में शामिल होकर लौट रहा था परिवार
दरअसल, बताया जाता है कि यह दर्दनाक हादसा सोमवार रात करीब 12 बजे के आसपास हुआ है। जहां कपड़ा कारोबारी हरीश अदलखा अपनी पत्नी मीना बेटे राहुल और ढाई वर्षीय पोती मान्या के साथ भवानीगढ़ में शादी में शामिल होने के बाद अपने गांव सुनाम लौट रहे थे। धुंध इतनी थी की पास खड़े एक खराब कैंटर भी नहीं दिखा और उसमें जाकर जा टकराई।

दादी की गोद में सो  रही थी पोती, लेकिन...
स्थानीय लोगों  ने बताया कि हादसा इतना खतरनाक था कि कार के पूरे तरह से परखच्चे उड़ गए। चारों लोगों की पहचान उनके कपड़ों को देखकर की गई। पति-पत्नी और बेटे ने तो मौके पर दम तोड़ दिया था। लेकिन बच्ची की बेहोशी हालत में सांसे चल रही थी। जहां उसको फटाफट पहले पटियाला फिर चंडीगढ़ ले जाया गया, लेकिन आखिर में उसने भी दम तोड़ दिया। मासूम दादी की गोद में गहरी नींद में सो रही थी। लेकिन हादसे के बाद भी उसकी आंखें नहीं खुल पाई और उसने दुनिया को अलविदा कह दिया।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios