Asianet News Hindi

फेसबुकवाली लड़की के चक्कर में ऐसा फंसा पति कि 32 लाख गंवाकर करना पड़ा सुसाइड

 सोशल मीडिया पर किसी अपरचित से फ्रेंडशिप करना और उसे प्यार के रास्ते पर ले जाना जोखिमपूर्ण साबित हो सकता है। सोशल मीडिया के जरिये सिर्फ लड़के ही नहीं, लड़कियां भी ब्लैकमेल करने में पीछे नहीं हैं। ऐसे ही एक सनसनीखेज मामले में पंजाब के फाजिल्का के रहने वाले इस शख्स को अपनी जिंदगी गंवानी पड़ गई। एक लड़की ने उसे इतना ब्लैकमेल किया कि उसने सुसाइड कर ली।

Love on facebook, 31-year-old man committed suicide due to blackmailing kpa
Author
Fazilka, First Published Oct 27, 2020, 11:09 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

फाजिल्का, पंजाब. सोशल मीडिया (social media) पर एक महिला से फ्रेंडशिप करके उसके साथ फिजिकल रिलेशन बनाना 31 वर्षीय शादीशुदा शख्स की जिंदगी ले डूबा। लड़की ने रेप का केस दर्ज कराकर उसे इतना ब्लैकमेल (blackmailing) किया कि उसने सुसाइड कर लिया। लड़की ने पहले रजामंदी से उसके साथ संबंध बनाए और फिर ब्लैकमेल करने लगी। लड़की ने शख्स से 32 लाख रुपए हड़प लिए थे। इसके बाद भी वो लगातार पैसे मांग रही थी। वो फोन और मैसेज करके शख्स को परेशान करने लगी थी। इसे डरकर शख्स ने अपनी जान दे दी। मृतक अमरजोत सिंह आजमवाला गांव में रहता था। अपने माता-पिता की इकलौती संतान अमरजोत के पास 17 एकड़ जमीन है। लड़की की नजर उसी पर थी।

मृतक की पत्नी ने दर्ज कराई शिकायत

अमरजोत सिंह की पत्नी रूपिंदर कौर ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है कि बठिंडा की रहने वाली नरिंदरपाल कौर लगातार ब्लैकमेल कर रही थी। अमरजोत किसान था। करीब 5 साल पहले सोशल मीडिया के जरिये दोनों संपर्क में आए थे। इसके बाद दोनों के बीच फोन पर बातचीत होने लगी। बाद में दोनों मिलने लगे। फिर लड़की अमरजोत को परेशान करने लगी।

27 लाख में किया था राजीनामा
शिकायत में कहा गया कि लड़की ने साजिश रचकर गलत दस्तखत कराकर अमरजोत से 5 लाख रुपए ले लिए थे। फिर अवैध संबंध बनाकर 21 जून 2020 को सिविल लाइन बठिंडा में रेप का मामला दर्ज करा दिया। इसकी जानकारी अमरजोत को नहीं थी। लड़की ने बहाने से अमरजोत को बठिंडा बुलाया और गिरफ्तार करवा दिया। केस वापस लेने के लिए लड़की ने 27 लाख रुपए ले लिए थे। इसे बावजूद उसके पति को 2 महीने जेल में रहना पड़ा।

और पैसों की डिमांड कर रही थी

आरोप है कि लड़की और पैसों की डिमांड कर रही थी। उसने अमरजोत को इतना परेशान कर दिया था कि उसे इलाज कराना पड़ा। अमरजोत का फाजिल्का के एक निजी अस्पताल में इलाज चल रहा था। लड़की अमरजोत पर शादी का दबाव बना रही थी। इससे वो मानसिक रूप से परेशान हो गया था। लड़की को पैसे देने वो कर्ज ले रहा था। आखिरकार रविवार की शाम उसने फांसी लगा ली। आगे पढ़ें ब्लैकमेलिंग की एक और घटना..

4 दिन बाद वायरल हुए 6 पेज के सुसाइड नोट ने चौंकाया, 9 लोगों ने इतना किया टॉर्चर कि पूरी फैमिली खत्म

बठिंडा, पंजाब. शहर के पॉश इलाके ग्रीन सिटी में रहने वाले ट्रेडर्स दविंदर गर्ग के परिवार की हत्या और सुसाइड (Mystery of Murder and Suicide) मामले में पुलिस को 6 पेज का सुसाइड नोट (Suicide note) मिला है। इसमें 9 लोगों पर टॉर्चर करने का आरोप लगा है। हालांकि पुलिस पहले ही इनके खिलाफ केस दर्ज कर चुकी है। बता दें 22 अक्टूबर की दोपहर को 41 वर्षीय दविंदर ने अपनी लाइसेंसी रिवाल्वर से 38 वर्षीय पत्नी मीना, 14 वर्षीय बेटे अरुष और 10 साल की बेटी मुस्कान की गोली मारकर हत्या कर दी थी। इसके बाद उन्होंने अपने सिर में गोली मार ली थी। जिन लोगों पर सुसाइड के लिए उकसाने का आरोप लगा है, वे सभी भी ट्रेडिंग बिजनेस से जुड़े हैं। इसमें एक महिला भी है।

सुसाइड नोट में लिखी अपनी पीड़ा
दविंदर ने अपने सुसाइड नोट में मनजिंदर सिंह धालीवाल, राजू कोहेनूर, अमन कोहेनूर, बब्बू कालड़ा, संजय जिंदल बॉबी, अशोक कुमार रामा मंडी, प्रवीन बंसल, अभिषेक जोहरी दिल्ली व मनी बंसल के नाम लिखे। घटना की वजह इनके द्वारा बहुत टॉर्चर करना बताया। सुसाइड नोट में दविंदर ने हर आरोपी के नाम के आगे यह भी बताया कि उन्होंने कैसे टॉर्चर किया। जैसे लिखा कि संजय जिंदल एक फ्रॉड आदमी है। वो फाइनेंस का फर्जी काम करता है। वो लोगों से 10 प्रतिशत ब्याज वसूलता है। पूरा पैसा चुकाने के बाद भी वो पैसा मांग रहा था। यह सुसाइड नोट घटना के 4 दिन बाद वायरल हुआ है। जबकि यह पुलिस के पास है।

पुलिस का तर्क
एसएसपी भूपिंदरजीत सिंह विर्क ने कहा था कि शुरुआती जांच में यह मामला मर्डर एंड सुसाइड से जुड़ा प्रतीत होता है। हालांकि सुसाइड नोट के बाद उसमें लिखे गए लोगों के खिलाफ जांच की जा रही है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios