Asianet News Hindi

कुछ दिन पहले ही बेटे को विदेश भेजते समय खूब रोई थी मां, अब बेटा मां की हालत सुनकर बिलख पड़ा

लॉकडाउन के बीच गांव में दबदबा बनाने को लेकर रिटायर फौजी ने 55 साल के एक स्कूल बस ड्राइवर की गोली माकर हत्या कर दी। आरोपी गांव की सरपंच का पति है। वो किसी बात से नाराज था। मृतक का एक बेटा कुछ दिन पहले ही विदेश गया था। लॉकडाउन के कारण वो अपने पिता की अर्थी को कंधा भी नहीं दे सका। घटना कादियां कस्बे के गांव खारा में मंगलवार की देर रात हुई। 

Murder amidst lockdown, sad story of a woman kpa
Author
Gurdaspur, First Published Apr 30, 2020, 10:27 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

गुरदासपुर, पंजाब. लॉकडाउन के बीच गांव में दबदबा बनाने को लेकर रिटायर फौजी ने 55 साल के एक स्कूल बस ड्राइवर की गोली माकर हत्या कर दी। आरोपी गांव की सरपंच का पति है। वो किसी बात से नाराज था। मृतक का एक बेटा कुछ दिन पहले ही विदेश गया था। लॉकडाउन के कारण वो अपने पिता की अर्थी को कंधा भी नहीं दे सका। घटना कादियां कस्बे के गांव खारा में मंगलवार की देर रात हुई। घटना के वक्त मृतक का एक बेटा घर पर था। वो घायल पिता दिलबाग सिंह को लेकर रात करीब 12 बजे बटाला के सिविल हॉस्पिटल पहुंचा। वहां से उसे अमृतसर रेफर किया गया, लेकिन रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया।

गेट पर पत्थर मारा था
मृतक कादियां की बेटी का शादी हो चुकी है। घटना के वक्त वो, उसकी पत्नी और छोटा बेटा जगरूप घर पर था। थाना सेखवां के प्रभारी एसआई लखविंदर सिंह ने बताया कि आरोपी मनबीर सिंह घटना के बाद से फरार है। जगरूप ने बताया कि रात करीब 11 बजे दरवाजे पर आरोपी ने पत्थर मारा। जब इसकी वजह पूछी, तो वो गालियां बकने लगा। इसके बाद उसने पापा को गोली मार दी। भागते समय आरोपी ने हवाई फायर भी किए। जगरूप ने बताया कि आरोपी घटना के वक्त नशे में था।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios