Asianet News Hindi

4 दिन बाद वायरल हुए 6 पेज के सुसाइड नोट ने चौंकाया, 9 लोगों ने इतना किया टॉर्चर कि पूरी फैमिली खत्म

बठिंडा में  22 अक्टूबर को ट्रेडर्स दविंदर के परिवार से जुड़े मर्डर और सुसाइड के मामले में 6 पेज के सुसाइड नोट से नया मोड़ आ गया है। यह घटना के 4 दिन बाद वायरल हुआ है। इसमें 9 लोगों पर टॉर्चर करने का आरोप लगाया गया है। बता दें कि दविंदर ने अपनी लाइसेंसी रिवाल्वर से पत्नी और दो बच्चों की गोली मारकर हत्या करने के बाद खुद को उड़ा दिया था। मामला पैसों के लेनदेन से जुड़ा है।

Mystery of Murder and Suicide of Trader Davinder Garg's Family in Bathinda, Punjab kpa
Author
Bathinda, First Published Oct 26, 2020, 2:08 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बठिंडा, पंजाब. शहर के पॉश इलाके ग्रीन सिटी में रहने वाले ट्रेडर्स दविंदर गर्ग के परिवार की हत्या और सुसाइड (Mystery of Murder and Suicide) मामले में पुलिस को 6 पेज का सुसाइड नोट (Suicide note) मिला है। इसमें 9 लोगों पर टॉर्चर करने का आरोप लगा है। हालांकि पुलिस पहले ही इनके खिलाफ केस दर्ज कर चुकी है। बता दें 22 अक्टूबर की दोपहर को 41 वर्षीय दविंदर ने अपनी लाइसेंसी रिवाल्वर से 38 वर्षीय पत्नी मीना, 14 वर्षीय बेटे अरुष और 10 साल की बेटी मुस्कान की गोली मारकर हत्या कर दी थी। इसके बाद उन्होंने अपने सिर में गोली मार ली थी। जिन लोगों पर सुसाइड के लिए उकसाने का आरोप लगा है, वे सभी भी ट्रेडिंग बिजनेस से जुड़े हैं। इसमें एक महिला भी है।

सुसाइड नोट में लिखी अपनी पीड़ा
दविंदर ने अपने सुसाइड नोट में मनजिंदर सिंह धालीवाल, राजू कोहेनूर, अमन कोहेनूर, बब्बू कालड़ा, संजय जिंदल बॉबी, अशोक कुमार रामा मंडी, प्रवीन बंसल, अभिषेक जोहरी दिल्ली व मनी बंसल के नाम लिखे। घटना की वजह इनके द्वारा बहुत टॉर्चर करना बताया। सुसाइड नोट में दविंदर ने हर आरोपी के नाम के आगे यह भी बताया कि उन्होंने कैसे टॉर्चर किया। जैसे लिखा कि संजय जिंदल एक फ्रॉड आदमी है। वो फाइनेंस का फर्जी काम करता है। वो लोगों से 10 प्रतिशत ब्याज वसूलता है। पूरा पैसा चुकाने के बाद भी वो पैसा मांग रहा था। यह सुसाइड नोट घटना के 4 दिन बाद वायरल हुआ है। जबकि यह पुलिस के पास है।

पुलिस का तर्क
एसएसपी भूपिंदरजीत सिंह विर्क ने कहा था कि शुरुआती जांच में यह मामला मर्डर एंड सुसाइड से जुड़ा प्रतीत होता है। हालांकि सुसाइड नोट के बाद उसमें लिखे गए लोगों के खिलाफ जांच की जा रही है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios