Asianet News HindiAsianet News Hindi

कैप्टन का Time खत्म: अमरिंदर सिंह ने दिया इस्तीफा, कुछ देर में चुना जाएगा पंजाब का नया मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की कुर्सी खतरे में पड़ती दिख रही है। क्योंकि राज्य के 40 विधायकों ने सीएम के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। इन विधायकों ने पार्टी हाईकमान सोनिया गांधी को चिट्टी लिख बैठक बुलाई है। 

Punjab CM Captain Amarinder Singh position is trouble, MLAs call for meeting
Author
Chandigarh, First Published Sep 18, 2021, 11:19 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

चंढ़ीगढ़. पंजाब में विधानसभा चुनाव से पहले राजनीतिक घमासान शुरू हो चुका है। सीएम अमरिंदर सिंह शनिवार शाम 4 बजे राज्यपाल से मुलाकात कर मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है। शाम 5 बजे विधायक दल की बैठक में नए मुख्यमंत्री चुना जाएगा। बताया जा रहा है कि इस बैठक में  कैप्टन अमरिंदर सिंह शामिल नहीं होंगे।

सोनिया गांधी ने दिल्ली से भेजे दो पर्यवेक्षक 

कैप्टन से नाराज 40 विधायकों ने कांग्रेस हाईकमान से उनकी शिकायत की थी। बता दें कि हरीश रावत ने इस बैठक में प्रदेश के सभी विधायकों से अनुरोध किया है कि वह इस बैठक में शामिल हो। इसके अलावा कांग्रेस प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू ने भी सभी एमएलए से मीटिंग में आने की अपील की है। वहीं बताया जा रहा है कि इसमें केंद्रीय पर्यवेक्षक के तौर पर अजय माकन और हरीश चौधरी को पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पर्यवेक्षक नियुक्त किया है। वह आज सीधे दिल्ली से चंडीगढ़ पहुंचेंगे।

कैप्टन ने सोनिया गांधी से की फोन पर बात
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक,कांग्रेस विधायक दल की बैठक से पहले सीएम अमरिंदर सिंह ने सोनिया गांधी से फोन पर बीतचीत की है। कैप्टन ने बिना बताए विधायक दल की बैठक बुलाए जाने को अपमानजनक बताया है। जिसके चलते सीएम कांग्रेस नेताओं से नाराज हैं।

सीएम कैप्टन के कामकाज पर उठाए सवाल
बता दें कि हरीश रावत ने इस बैठक में प्रदेश के सभी विधायकों से अनुरोध किया है कि वह इस बैठक में शामिल हो। इसके अलावा कांग्रेस प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू ने भी सभी एमएलए से मीटिंग में आने की अपील की है। वहीं बताया जा रहा है कि इस पत्र के माध्यम से सिद्धू खेमे के विधायकों ने सीएम कैप्टन के कामकाज पर सवाल उठाए हैं।

बैठक में हो सकता है नए सीएम का फैसला
पंजाब  में कांग्रेस का जो विवाद बढ़ रहा है वह सीएम कैप्टन और नवजोत सिद्धू की आपसी मनमुटाव की वजह से बढ़ा है। सिद्धू के अध्यक्ष बनने के बाद भी दोनों के बीच की खींचतान बढ़ती जा रही है। दोनों के बीच मामला इतना बढ़ चुका है कि इनके अपने-अपने विरोधी गुट भी बन चुके हैं। वहीं पार्टी इस मामले को सुलझा भी नहीं पाई इससे पहले ही कैप्टन ने इस्तीफा दे दिया। शाम 5 बजे विधायक दल की बैठक में नए मुख्यमंत्री चुना जाएगा। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios