Punjab Election 2022 : एक और दांव खेल गए अरविंद केजरीवाल, भगवंत मान को यूं दी सियासी मात

| Jan 13 2022, 12:53 PM IST

Punjab Election 2022 : एक और दांव खेल गए अरविंद केजरीवाल, भगवंत मान को यूं दी सियासी मात

सार

अरविंद केजरीवाल ने लोगों से मुख्यमंत्री का चेहरा चुनने की अपील भी की थी। उन्होंने एक नंबर जारी किया है। 7074870748 जारी किया और अपील की है कि इस नंबर पर कॉल कर पंजाब के लोग बताए कि वह किसे सीएम देखना चाह रहे हैं। 

चंडीगढ़ : पंजाब चुनाव से पहले आम आदमी पार्टी (AAP) के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ( Arvind Kejriwal) के एक दांव ने भगवंत मान को कुछ यूं सियासी मात दे दिया है, जिसकी उन्होंने कभी कल्पना भी नहीं की होगी। केजरीवाल ने खुद भगवंत मान से कहलवा दिया कि पंजाब में वह सीएम का चेहरा नहीं। बल्कि जनता यह फैसला करे कि पंजाब में सीएम का फेस कौन हो सकता है।

फोन कर बताएं कौन हो सीएम फेस
अरविंद केजरीवाल ने पंजाब के लोगों से मुख्यमंत्री का चेहरा चुनने की अपील की है। उन्होंने एक नंबर भी जारी किया। केजरीवाल ने जनता से अपील की है कि इस नंबर पर कॉल कर पंजाब के लोग बताए कि वह किसे सीएम देखना चाह रहे हैं। उन्होंने दावा किया कि पंजाब में आम आदमी की सरकार बनने जा रही है। उनकी कोशिश है कि सीएम का चेहरा पंजाब के लोग खुद चुने। इस मौके पर उन्होंने भगवंत मान (Bhagwant Mann) की जमकर तारीफ की और उन्हें अपना छोटा भाई बताया।

Subscribe to get breaking news alerts

कैसे काम करेगा यह फोन नंबर
आम आदमी पार्टी ने गुरुवार को बयान जारी कर कहा कि फोन कॉल के जरिए आप का सीएम उम्मीदवार तय होगा। आप ने 70748 70748 नंबर जारी किया है। इस नंबर पर कॉल करने के बाद पूछा जाता है कि आम आदमी पार्टी का मुख्यमंत्री का चेहरा कौन होना चाहिए। बीप की आवाज के बाद जिसे भी कॉल करने वाला आप के मुख्यमंत्री के चेहरे के तौर पर देखना चाहता है उसका नाम लेना पड़ता है। इस नंबर पर की जाने वाली हर कॉल को आम आदमी पार्टी रिकॉर्ड कर रही है।

भगवंत मान का नाम चल रहा था आगे
बता दें कि अभी तक कयास लगाए जा रहे थे कि आम आदमी पार्टी के सीएम का चेहरा बनने की रेस में संगरूर से सांसद भगवंत मान सबसे आगे हैं। बुधवार को पंजाब पहुंचने के बाद अरविंद केजरीवाल ने कहा कि एक हफ्ते के बाद सीएम के चेहरे से पर्दा हटाया जाएगा, तो ऐसा माना गया कि भगवंत मान का नाम फाइनल हो चुका है। लेकिन अब पार्टी के इस दांव से भगवंत मान को नई चुनौती मिल सकती है। उनकी दावेदारी में पेंच फंस सकता है। भगवंत मान के समर्थकों की ओर से लगातार आम आदमी पार्टी पर सीएम का उम्मीदवार घोषित करने के लिए दबाव बनाया जा रहा है।

क्या इस दांव से आप को होगा लाभ?
पंजाब की राजनीति पर नजर रखने वाले आंकड़ा विश्लेषक वीरेंद्र भारत ने बताया कि आम आदमी पार्टी की पकड़ अब कमजोर हो रही है। केजरीवाल को यह प्रयोग बहुत पहले करना चाहिए था। वह मुद्​दों को दूसरी ओर मोड़ने में माहिर है। जो दांव उन्होंने खेला है, वह भी इसी दिशा में उठाया गया एक कदम है। इसका ज्यादा लाभ आप को मिलने वाला नहीं है। क्योंकि आखिर में तय तो केजरीवाल को करना है कि पंजाब का सीएम कौन बनेगा? कॉल डिटेल का रिकॉर्ड क्या? जनता ने किसे चुना है? 

क्या है इसके मायने? 
आप के भीतर इस वक्त असंतोष है। भगवंत मान के समर्थन भी निराश है। इस वक्त आप इस स्थिति में नहीं कि भगवंत मान और उसके समर्थकों का नाराज होना बर्दाश्त कर सके। क्योंकि इससे पार्टी काो सीधा नुकसान होगा। केजरीवाल इस नुकसान को कम करना चाह रहे हैं। वह भगवंत मान और उसके समर्थकों को खुश करने की कोशिश कर रहे हैं। देखना यह होगा कि वह इसमें कितना कामयाब होते हैं। क्योंकि भगवंत मान भी यह मान कर चल रहे हैं कि यदि उन्हें सीएम चेहरा बनाना होता तो इसकी घोषणा की जाती, न कि इस तरह से पोल कराया जाता।

इसे भी पढ़ें-Punjab Election 2022: सिद्धू के बाद अरविंद केजरीवाल भी लाए पंजाब मॉडल, 24 घंटे मुफ्त बिजली, नशा मुक्त का वादा

इसे भी पढ़ें-Punjab Election 2022 : चंडीगढ़ पहुंचे अरविंद केजरीवाल, कांग्रेस सरकार को घेरा, CM फेस पर कही ये बड़ी बात

 
Read more Articles on