Inside Story: मोहम्मद मुस्तफा मामले में सिद्धू पर भारी पड़े चन्नी, कांग्रेस हाइकमान के दखल के बाद दर्ज हुई FIR

| Jan 23 2022, 05:44 PM IST

Inside Story: मोहम्मद मुस्तफा मामले में सिद्धू पर भारी पड़े चन्नी, कांग्रेस हाइकमान के दखल के बाद दर्ज हुई FIR

सार

 कांग्रेस हाइकमान का इशारा मिलते ही मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी सक्रिय हो गए और आनन-फानन में पुलिस के आला अधिकारियों को बोल दिया गया कि विवादित वीडियो मामले में पूर्व डीजीपी मोहम्मद मुस्तफा के खिलाफ कोई शिकायत आए तो तुरंत एफआइआर दर्ज की जाए। 

मनोज ठाकुर, चंडीगढ़। पंजाब के पूर्व डीजीपी मोहम्मद मुस्तफा की हेट स्पीच के मामले में दर्ज एफआईआर फौरी तौर पर देखने में सामान्य नजर आ रही हो, लेकिन कांग्रेस के भीतर इसके सियासी मायने हैं। एफआइआर दर्ज कर कांग्रेस ने प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू को जवाब दिया कि हर बार मनमानी नहीं चल सकती। कांग्रेस हाइकमान का इशारा मिलते ही मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी सक्रिय हो गए और आनन-फानन में पुलिस के आला अधिकारियों को बोल दिया गया कि मुस्तफा के खिलाफ कोई शिकायत आए तो तुरंत एफआइआर दर्ज की जाए। 

इसके लिए रातभर मंथन किया गया। सियासी गुणा-भाग करने के बाद तय किया गया कि एफआइआर दर्ज करने के सिवाय बचाव को कोई रास्ता नहीं है। चन्नी और उनकी टीम ने आलाकमान को समझाया कि पार्टी का प्रदेश में पहले ही काफी नुकसान हो गया है। अब यदि मोहम्मद मुस्तफा पर नरमी बरती गई तो बाजी हाथ से निकल सकती है। प्रदेश टीम की चिंता को देखते हुए आलाकमान ने केस दर्ज करने की हामी भर दी। यह भी बताया जा रहा है कि चुनाव आयोग ने भी इस वीडियो पर संज्ञान लिया है। लेकिन, कांग्रेस का चन्नी गुट इस मामले में अपना स्टैंड साफ करना चाहता था। इसलिए चुनाव आयोग के हस्तक्षेप के पहले ही केस दर्ज कर लिया गया। 

Subscribe to get breaking news alerts

तो चुनाव हो जाता कांग्रेस और भाजपा के बीच 
मुस्तफा के बयान पर भाजपा ने दिल्ली से लेकर पंजाब तक कांग्रेस पर धावा बोल दिया। राजनीतिक समीक्षक वीरेंद्र भारत ने बताया कि मुस्तफा के बयान से पंजाब के हिंदू खासे आहत हैं। जिस तरह से बीजेपी ने इसे मुद्दा बना दिया है। हिंदू समुदाय भी तेजी से इस मामले में भाजपा के पक्ष में डट गया है। इससे कांग्रेस के सामने बचाव का कोई रास्ता नहीं था। अभी तक का जो चुनाव कांग्रेस और आम आदमी के बीच नजर आ रहा था, वह कांग्रेस और भाजपा के बीच सीधा मुकाबला हो सकता था। ऐसा कांग्रेस चाहेगी नहीं। क्योंकि यदि ऐसा हुआ तो कांग्रेस के लिए सत्ता बचाना बेहद मुश्किल हो जाएगा। इस मसले पर आम आदमी पार्टी भी बच-बच कर बयान दे रही है, जबकि भाजपा ने सीधा मोर्चा खोल दिया। इस वजह से भी कांग्रेस में खलबली मची हुई है। 

सिद्धू की चुप्पी ने दिया चन्नी को मौका 
जब सीएम चन्नी पर ईडी की रेड पड़ी तो कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सिद्धू चुप रहे। उन्होंने इस संबंध में कोई बयान नहीं दिया। अब जब सिद्धू के सलाहकार मुस्तफा विवादित बयान में फंसे तो चन्नी को मौका मिल गया। प्रदेश अध्यक्ष ने विवादित वीडियो के मामले में भी बहुत नपे-तुले अंदाज में बयान दिया, जिससे यह संदेश जा रहा था कि सिद्धू सार्वजनिक तौर पर मुस्तफा के खिलाफ नहीं जा रहे हैं। यूं भी मुस्तफा और उनकी कैबिनेट मंत्री पत्नी रजिया सुल्ताना सिद्धू खेमे के खास सिपहसालार माने जाते हैं। 

रजिया को मंत्री बनाने में सिद्धू की भूमिका
रजिया को मंत्री बनाने में काफी हक तक सिद्धू की भूमिका रही है। मुस्तफा को प्रदेश अध्यक्ष सिद्धू ने अपने रणनीतिकार मंडल में रखा था। सीएम के रिश्तेदार पर ईडी की रेड के बाद यह लॉबी चन्नी पर भारी पड़ रही थी। इसके पीछे वजह सीएम का पद है, जिस पर अभी चन्नी बैठे हुए हैं, लेकिन इस पर नजर सिद्धू की भी टिकी हुई है। चन्नी चाहकर भी अभी तक कुछ बोलने या कुछ करने की स्थिति में नहीं थे। लेकिन मुस्तफा के विवादित वीडियो ने उन्हें मौका दे दिया। जिसका उन्होंने पूरा फायदा उठाया। 

आगे आगे क्या हो सकता है ?
जानकारों का कहना है कि चन्नी यहां तक थमने वाले नहीं है। मुस्तफा की गिरफ्तारी के लिए भी वह पूरी कोशिश करेंगे।  क्योंकि एफआईआर के बाद यदि ठोस कार्यवाही नहीं होती तो भी विपक्ष के पास मुद्दा ज्यों का त्यों रहेगा। इधर चन्नी चाहेंगे कि इस मामले का पूरा फायदा उठाया जाए। इसलिए कोई अचरज की बात नहीं यदि मुस्तफा को पुलिस इस मामले में गिरफ्तार भी कर ले। पंजाब के सीनियर पत्रकार देवेंद्र चोपड़ा ने बताया कि एफआईआर हो ही गई है,इसलिए गिरफ्तारी भी हो सकती है। उन्होंने कहा कि निश्चित ही कांग्रेस इस मामले से बैकफुट पर है। उन्हें पंजाब के मतदाताओं के सामने खुद को साबित करना है कि वह धर्म के नाम पर किसी तरह का भेदभाव नहीं करती।

पंजाब पुलिस के Ex DGP मोहम्मद मुस्तफा भले तहजीब भूले, मगर FIR दर्ज करते वक्त जांच अधिकारी ने दिया पूरा सम्मान

पंजाब में Ex DGP मुस्तफा पर FIR, एक और विवादित Video में बोले- गैरमुस्लिम नपा अध्यक्ष बना तो ये कौम से गद्दारी

Ex DGP मुस्तफा के विवादित बयान पर कांग्रेस में अंदरखाने बवाल, सिद्धू भी बैकफुट पर, बोले- न हिंदू-न मुसलमान...

Ex DGP मुस्तफा बोले- अल्लाह की कसम...हालत नहीं संभाल पाओगे, BJP ने पूछा- पंजाब को कश्मीर बनाना चाहती कांग्रेस?

कैप्टन अमरिंदर बोले- अवैध खनन में CM चन्नी हिस्सेदार, सिद्धू भी निकम्मे, भगवंत मान सिर्फ कॉमेडियन

 
Read more Articles on