Asianet News Hindi

मां से लिपट रोती रही बेटी..कहती उठो मम्मी उठो पापा, पलभर में हादसे का शिकार हुआ 12 लोगों का परिवार

पलायन कर रहे मजदूरों के साथ हादसों का सिलसिला थमने का नाम नही ले रहा है। पंजाब में ऐसा ही एक दिल दहला देने वाली खबर सामने आई है, जहां एक परिवार दर्दनाक हादसे का शिकार हो गया। जिसमें  8 साल की बच्ची कृष्णा की मौत हो गई और 12 लोग घायल हो गए।

punjab jalandhar news car collided with tree 1 girl died and 12 injured family trapped in lockdown kpr
Author
Jalandhar, First Published Jun 4, 2020, 2:21 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जालंधर (पंजाब). पलायन कर रहे मजदूरों के साथ हादसों का सिलसिला थमने का नाम नही ले रहा है। पंजाब में ऐसा ही एक दिल दहला देने वाली खबर सामने आई है, जहां एक परिवार दर्दनाक हादसे का शिकार हो गया। जिसमें  8 साल की बच्ची कृष्णा की मौत हो गई और 12 लोग घायल हो गए।

इस वजह से हादसा का शिकार हुआ परिवार
दरअसल, यह भीषण एक्सीडेंट जालंधर के हाइवे पर पावरकॉम दफ्तर के पास हुआ। जहां एक बोलेरे गाड़ी बेकाबू होकर पेड़ से टकरा गई। जानकारी के मुताबिक, यह हादसा चालक चंदू को गाड़ी चलाते वक्त झपकी आ जान के कारण हुआ। इस हादसे में घायलों की पहचान बसंत, वसात, रजनी, राणो, रोहित, विमला, संजना और रवि पाल आदि के रूप में हुई है। 

मां को बेसुध देख रोती रही मासूम...
जैसे ही पेड़ से गाड़ी टकराई तो परिवार के सभी लोग बेसुध हो गए। लेकिन एक बच्ची सलामत रही, वह अपनी मां को सड़क पर बेसुध देख रो रही थी, वो बार-बार यही कह रही थी मम्मी उठो..मम्मी उठो। पुलिस ने सभी घायलों को सिविल अस्पताल जालंधर में भर्ती करवाया गया है।

लॉकडाउन में फंसा परिवार 2 माह बाद आ रहा था घर
थाना प्रभारी सुखदेव सिंह ने बताया कि हादसे में घायल यह परिवार राजस्थान का रहने वाला है। वह जालंधर की मंडियो में काम करते हैं, लेकिन दो महीने पहले वो हनुमानगढ़ अपने रिश्तेदार के यहां शादी में गए थे। लेकिन लॉकडाउन के चलते वह वहीं फंस गए। बुधवार को जब वो वापस जालंधर आ रहे थे कि रास्ते में हादसा हो गया।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios