Asianet News HindiAsianet News Hindi

पंजाब: कोरोना से मारे गए लोगों के परिजन को 50 हजार रुपए मदद देगी चन्नी सरकार, जिलों से डिटेल मांगी

कोरोना महामारी (coronavirus) में राज्य सरकार ने आम लोगों को सरकारी अस्पतालों में मुफ्त इलाज की सुविधा दी थी लेकिन इस महामारी से मारे गए लोगों के परिवारों को कोई आर्थिक मदद देने का प्रावधान नहीं किया गया था। जानकारी मिली है कि राज्य सरकार (Punjab Government) अभी कोविड से मरे मृत लोगों की सूची बना रही है। फिर उस सूची के आधार पर पीड़ित परिवार को 50 हजार रुपए की आर्थिक सहायता दी जाएगी।

Punjab kin of person who died of coronavirus will get financial assistance of Rs 50000 CM Channi took decision
Author
Chandigarh, First Published Oct 13, 2021, 3:13 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

चंडीगढ़। पंजाब में चन्नी सरकार (Punjab Government) लगातार बड़े फैसले ले रही है। अब राज्य में कोरोनावायरस (coronavirus) से मारे गए लोगों के परिजन को 50 हजार रुपए आर्थिक मदद देने का ऐलान किया है। राज्य सरकार ने इस संबंध में केंद्र (Central Government) की ओर से जारी निर्देशों पर कार्रवाई शुरू कर दी और सभी जिला उपायुक्तों को उनके जिलों में कोरोना से मारे गए लोगों की डिटेल मांगी है।

राजस्व, पुनर्वास एवं आपदा प्रबंधन विभाग के सचिव ने जिला उपायुक्तों को भेजे पत्र में कहा है कि केंद्र सरकार के निर्देशों के अनुसार राज्य सरकार की ओर से कोरोना के कारण मारे गए लोगों के परिवारों को 50 हजार रुपए एक्स ग्रेशिया ग्रांट देने का फैसला किया गया है जिसके लिए सभी जिले कोरोना से मारे गए लोगों की सूची उपलब्ध कराएं। यह राशि केंद्र सरकार के निर्देश पर मृत व्यक्ति के कानूनी वारिस को एचडी आरएफएफ में से दी जाएगी। 

पंजाब: अब शहरों में भी ‘लाल लकीर’ योजना लागू होगी, जमीनों की रजिस्ट्रियां फ्री होंगी, CM चन्नी ने ऐलान किया

15 अक्टूबर तक मांगी गई रिपोर्ट, इसके बाद पैसे भेजे जाएंगे
पत्र में आगे कहा गया है कि जिले वार ये रिपोर्ट 15 अक्टूबर तक सरकार को हर हाल में भेज दी जाए। विभाग के एक सीनियर अधिकारी ने बताया कि सभी जिलों से रिपोर्ट आ जाने के बाद सरकार की तरफ से संबंधित राशि जिलों को भेज दी जाएगी ताकि प्रभावित परिवारों में यह राशि दी जा सके। बता दें कि पंजाब में कोरोना से 16,531  लोगों ने जान गंवाई है। दूसरी लहर में मरने वालों की संख्या ज्यादा है। 

अब तक कोरोना वॉरियर को मिल रहा था मुआवजा
दरअसल, बीते वर्ष कोरोना के दौर में राज्य सरकार की ओर से आम लोगों को सरकारी अस्पतालों में मुफ्त इलाज की सुविधा प्रदान की गई थी लेकिन महामारी से मारे गए लोगों के परिवारों को आर्थिक मदद देने का प्रावधान नहीं किया गया था। हालांकि, राज्य सरकार ने मेडिकल स्टाफ, डॉक्टरों, विशेष ड्यूटी पर तैनात पुलिस और अन्य कर्मचारियों को फ्रंट लाइन वॉरियर का दर्जा दिया था और कोरोना से मौत होने पर 50 लाख रुपए एक्स ग्रेशिया देने का एलान किया था। 

'गुरू' की नाराजगी इस कदर, सीएम चन्नी के बेटे की शादी में भी नहीं गए..उल्टा ट्वीट कर दे डाली नसीहत

पंजाब में 24 घंटे में 20 केस
पंजाब में पिछले 24 घंटे में 20 नए कोरोना केस सामने आए हैं, इनमें पटियाला में पांच और फरीदकोट और कपूरथला में 3-3 केस मिले हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios