Asianet News HindiAsianet News Hindi

इंसाफ के लिए 2 दिन से दर्द लिए पुलिस चौकी में बैठी गर्भवती महिला, खतरे में है उसकी जान

पंजाब में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। जहां सिविल अस्पताल में सफाई कर्मचारी ने धोखे से गर्भवती महिला का मोबाइल फोन लूट लिया। पीड़िता दो दिन से हॉस्पिटल में बनी पुलिस चौकी में बैठी है। 

punjab news pregnant woman sitting in police post for two days for justice in  ludhiyana kpr
Author
Ludhiana, First Published Jul 2, 2020, 5:59 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लुधियाना. पंजाब में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। जहां सिविल अस्पताल में सफाई कर्मचारी ने धोखे से गर्भवती महिला का मोबाइल फोन लूट लिया। पीड़िता दो दिन से हॉस्पिटल में बनी पुलिस चौकी में बैठी है। लेकिन उसको इंसाफ नहीं मिला है।

पति के नाम पर हुई धोखे का शिकार 
दरअसल, चार दिन पहले लुधियाना की मदर-चाइल्ड अस्पताल में आठ माह की गर्भवती महिला प्रीति अपना चैकअप कराने के लिए गई थी। इसी दौरान उसके पास एक सफाई कर्मी आया और बोला-'तुम्हारे पति ने मोबाइल मंगवाया है'। भोली-भाली पीड़िता ने उसको मोबाइल दे दिया, जब पति उसके पास आया तो पता चला कि वह धोखे का शिकार हो गए। 

अपना दर्द लेकर दो से बैठी है पीड़िता
इसी बीच उसे पटियाला से चंडीगढ़ पीजीआईएमईआर रेफर कर दिया गया। महिला ने वहां अपना इलाज नहीं कराया और अपनी पायल बेचकर  वापस लुधियाना आई। वह चोरू हुए मोबाइल की शिकायत पुलिस चौकी सिविल अस्पताल में दी। लेकिन यहां यहां सुनवाई न होने के कारण वह दो दिन से बैठी है।

डॉक्टरों ने कहा-खतरे में पड़ सकती है महिला की जान
महिला का कहना है कि उसके पास ना तो अब इतने पैसे हैं कि वह अपना इलाज करा सके। वह पहली डिलेवरी के चलते कोई  रिस्क नहीं लेना चाहती है। वहीं डॉक्टरों का कहना है कि अगर इलाज नहीं मिला तो कुछ भी हो सकता है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios