मोहाली (पंजाब), इसे लापरवाही कहें या शर्मनाक हरकत कि एक मुर्दाघर में रखी डेडबॉडी भी वहां सुरक्षित नहीं रह पाई। ऐसी ही एक मानवता को तार-तार कर देने वाली घटना पंजाब के इंडस इंटरनेशनल अस्पताल से सामने आई है। जहां शवगृह में रखे शव के होंठ और कान चूहे कुतर-कुतर कर खा गए।

महिला की ऑप्रेशन से पहले ही मौत...
दरअसल, पंचकूला के के रहने वाले रिटायर्ड कर्नल अमरजीत सिंह अपनी पत्नी जसजोत कौर की हार्ट सर्जरी कराने के लिए यहां लेकर आए थे। जहां उन्होंने 29 जुलाई शाम इंडस इंटरनेशनल अस्पताल में भर्ती कराया था। कुछ देर बाद ही अस्पताल प्रबंधन ने बताया कि महिला की ऑप्रेशन से पहले ही मौत हो गई। घरवालो ने अस्पताल परिसर में खूब हंगामा किया और मरीज का ठीक से इलाज नहीं करने का आरोप भी लगाया। कर्नल अमरजीत सिंह ने पत्नी की मौत का जिम्मेदार डॉक्टरों पर ठहराया और परिजन रोते हुए अपने घर चले गए। इसके बाद प्रबंधन ने शव को अस्पताल की मॉर्चरी में रखवा दिया।

महिला के होंठ और कान थे गायब
इसके अगले दिन शुक्रवार को घरवाले जब शव को लेने आए तो देखते ही उनके होश उड़ गए। उन्होंने देखा कि मृतक महिला के होंठ और कान चूहे कुतर-कुतर कर खा गए थे। पूरा शव लहूलुहान हो गया था, जिस किसी ने इस वीभप्स घटना को देखा उसके रोंगटे खड़े हो गए। परिजनों ने लापरवाही के साथ-साथ शव के साथ छेड़खानी का आरोप भी लगाया। अमरजीत ने इस मामले की जानकारी पुलिस को दी और अस्पताल के खिलाफ मामला दर्ज कराया। इसके बाद पुलिस ने डेडबॉडी को दूसरे अस्पताल में शिफ्ट कर पोस्टमार्टम कराया। फिर कहीं जाकर परिजन शव को अंतिम संस्कार के लिए पंचकूला लेकर गए।

इस वजह से शव को चूहे कुतर गए
मामले में  की जांच करते हुए तहसीलदार नवप्रीत सिंह गिल ने अस्पताल प्रबंधक से बात की। तो मेडिकल डायरेक्टर सुरिंदर बेदी ने बताया कि  मॉर्चरी में चूहे हो सकते हैं, इसलिए शायद डैमेज हुई है। वहीं पीड़ित अमरजीत का कहना है कि मैने शव को मॉर्चरी में रखवाने के लिए 3500 रु. फीस भी दी थी। इन लोगों ने बॉडी को फ्रीजर में सही टेंपरेचर में नहीं रखा, इसलिए चूहों ने यह हालत कर दी।