Asianet News HindiAsianet News Hindi

रात में नहीं मिली कोई सवारी, अकेली है महिला तो 100 नंबर पर करें फोन, घर तक छोड़ेगी पुलिस

हैदराबाद गैंगरेप मामले के बाद महिला सुरक्षा के लिए पुलिस सतर्क हो गई है। पंजाब में पुलिस ने रात में सफर करने वाली महिलाओं की सुरक्षा को लेकर बड़ी घोषणा की है।

punjab police will drope women to home at night  after hyderabad case
Author
Chandigarh, First Published Dec 4, 2019, 6:11 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

चंडीगढ़. हैदराबाद गैंगरेप मामले के बाद महिला सुरक्षा के लिए पुलिस सतर्क हो गई है। पंजाब में पुलिस ने रात में सफर करने वाली महिलाओं की सुरक्षा को लेकर बड़ी घोषणा की है। यहां खासतौर पर रात को सफर करने वाली महिलाओं को पुलिस की गाड़ी घर तक छोड़कर आएगी।

दुष्कर्म की घटनाओं के बाद तेलंगाना के सीएम के चंद्रशेखर राव यानी केसीआर ने महिलाओं को नाइट ड्यूटी खत्म करने की बात कही थी। वहीं 3 दिसंबर के दिन पंजाब सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने एक ऐलान किया कि रात में महिलाओं को अगर घर जाने का कोई साधन न मिले, तो पुलिस उन्हें सुरक्षित घर तक पहुंचाएगी।

इन नंबर पर करें कॉल

रात 9 बजे से सुबह 6 बजे के बीच ये सुविधा मिलेगी। इसके लिए महिलाओं को 100, 112 और 181 नंबर पर फोन लगाना होगा। फिर उनके कॉल को तुरंत ही पीसीआर यानी पुलिस कंट्रोल रूम से कनेक्ट किया जाएगा। 5 से 6 मिनट के अंदर पुलिस की गाड़ी महिला तक पहुंच जाएगी। सीएम ने पंजाब पुलिस के डीजीपी दिनकर गुप्ता को आदेश दिया है कि वो जल्द से जल्द इस सुविधा को पूरे राज्य में लागू करवाएं।

महिला पुलिसकर्मी भी होगी साथ

ये सुविधा उन महिलाओं को मिलेगी जिनके पास सफर के लिए सुरक्षित साधन नहीं होगा। पुलिस की जिस गाड़ी से महिला को घर तक छोड़ा जाएगा, उसमें एक महिला पुलिसकर्मी भी होगी। डीजीपी गुप्ता ने बताया कि जल्द ही मोहाली, पटियाला और बठिंडा समेत बाकी बड़े कस्बों में इस सुविधा के लिए पीसीआर वाहन मुहैया कराया जाएंगे। 

‘डीसीपी' और 'एसीपी' (क्राइम अगेंस्ट विमन) के ऊपर जिम्मेदारी होगी कि वो इस सुविधा को ठीक तरह से लागू करवाएं। नोडल अधिकारी के नंबर पंजाब सरकार और पंजाब पुलिस की वेबसाइट पर उपलब्ध होंगे।’ पंजाब सीएम ने हैदराबाद केस पर दु:ख जताते हुए महिला सुरक्षा के लिए कड़े इंतजाम करने की बात कही है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios