Asianet News HindiAsianet News Hindi

एक ही चिता पर हुआ बाप-बेटे का अंतिम संस्कार, एक टक नम आंखों से पति और बेटे को देखती रही पत्नी

बाप-बेटे का अंतिम संस्कार एक ही चिता पर किया गया तो वहां मौजूद लोगों की आंखें नम हो गईं। वहीं हादसे कि शिकार महिला एक टक अपने पति और बेटे की चिता को देखती रही।

story funeral of father and son on the same in punjab kpr
Author
Chandigarh, First Published Dec 25, 2019, 8:29 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

चंडीगढ़, बाप-बेटे का अंतिम संस्कार एक ही चिता पर किया गया तो वहां मौजूद लोगों की आंखें नम हो गईं। वहीं हादसे की शिकार महिला एक टक अपने पति और बेटे की चिता को देखती रही। बता दें, दो दिन पहले चंडीगढ़ में हुए दर्दनाक हादसे में पिता-पुत्र की मौत हो गई थी। जबकि पत्नी घायल थी।

एक साथ हुई थी बाप-बेटे की मौत
दरअसल, यह हादसा सोमवार रात चंडीगढ़ के सेक्टर-34 में हुआ था। जहां चंडीगढ़ के रहने वाले 35 वर्षीय प्रवीण मेहरा अपनी पत्नी ज्योति और 7 साल के बेटे रोहन के साथ शाम को घर की ओर आ रहे थे। जैसी वह सेक्टर-34 के गुरुद्वारे के पास पहुंचे कि उनकी गाड़ी बेकाबू होकर डिवाइडर पर लगे बिजली के खंभे से जा टकराई। टक्कर इतनी जोरदार थी कि पिता और पुत्र ने अस्पताल पहुंचने से पहले दम तोड़ दिया था। वहीं महिला घायल हो गई थी। जिसे पास के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

बर्थडे के दिन हो गई मौत
जानकारी के मुताबिक, मृतक प्रवीण की शादी 2004 में ज्योति के साथ हुई थी। घटनावाले दिन प्रवीण का बर्थ-डे था। प्रवीण पकौड़ी की रेहड़ी लगाकर परिवार का पेट पाल रहा था। उसका एक बेटा मयंक (12) भी है जो उस दिन उनके साथ नहीं गया था। शायद वह इसलिए बच गया।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios