Asianet News HindiAsianet News Hindi

ठांय-ठांय की आवाज सुनकर जान बचाकर भागा पंजाब के CM का कमांडो

मोहाली के एक डिस्को क्लब में पंजाब के CM कैप्टन अमरिंदर सिंह के कमांडो की सीने में गोली मारकर हत्या कर दी गई। वो रविवार रात पार्टी करने डिस्को गया था। वहां किसी महिला के चक्कर में आरोपी से झगड़ा हो गया था। कमांडो ने जान बचाकर भागने की कोशिश की, लेकिन नाकाम रहा।

tampering in  Disco club in mohali , murder of  Sukhwinder, he was commando of Punjab CM amrinder singh
Author
Chandigarh, First Published Aug 5, 2019, 5:55 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

चंडीगढ. मोहाली के फेज-11 स्थित वॉकिंग स्ट्रीट एंड कैफे नामक डिस्को क्लब में रविवार तड़के तीन बजे पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह के कमांडो की गोली मारकर हत्या कर दी गई। बताते हैं कि क्लब में किसी महिला के साथ हो रही छेड़छाड़ पर कमांडो ने आपत्ति ली थी। इसके बाद उसका आरोपी से झगड़ा हो गया था। हमलावर CCTV कैमरे में कैप्चर हो गया था, जिससे उसकी पहचान हो गई थी। उसका नाम चरणजीत सिंह उर्फ साहिल सागर है। हत्या के बाद आरोपी पानीपत भाग गया था, लेकिन पकड़ा गया। पुलिस ने उसके दो साथियों अतुल व आशीष को भी गिरफ्तार किया है।

महिलाओं को छू रहा था आरोपी..
सुखविंदर कुमार पंजाब पुलिस की चौथी कमांडो बटालियन में तैनात था। वह फिरोजपुर के रारावली गांव का रहने वाला था। मोहाली में सुखविंदर कमांडो कॉम्पलेक्स में रहता था। बताते हैं रविवार रात करीब  2:30 बजे साहिल अपने तीन दोस्तों के डांस फ्लोर पर मस्ती करते हुए डांस कर रहा था। इस दौरान वो जानबूझकर महिलाओं को टच कर रहा था। सुखविंदर ने जब साहिल को हिदायत दी, तो वो गुस्सा हो गया।

पार्किंग में मारी गोली..
हालांकि जब सुखिविंदर और साहिल का झगड़ा नहीं रुका, तो क्लब के बाउंसरों ने साहिल और उसके दोस्तों को बाहर निकाल दिया था। साहिल पार्किंग में खड़ा होकर सुखविंदर का इंतजार करने लगा। रात करीब 3.20 बजे जैसे ही सुखविंदर बाहर निकला, साहिल उससे भिड़ गया। गुस्से में साहिल ने फायर कर दिया। सुखविंदर जान बचाकर भागा, लेकिन आरोपी ने उस पर फायर कर दिए। एक गोली सुखविंदर के सीने, जबकि दूसरी पेट को टच करके निकल गई। इसके बाद साहिल हवाई फायर करते हुए वहां से भाग निकला। मोहाली के एसएसपी कुलदीप सिंह चहल ने कहा कि आरोपी को पानीपत से पकड़ लिया गया है। पुलिस ने क्लब बंद करा दिया गया है। वहीं फेज-11 के एसएचओ जगदेव सिंह को लापरवाही के इल्जाम में सस्पेंड कर दिया है।

इकलौता बेटा था
सुखविंदर के पिता बलजीत पंजाब पुलिस में ASI हैं। वे अभी थाना लक्खेवाली(जिला मुक्तसर) में तैनात हैं। सुखविंदर अपने परिवार का इकलौता बेटा था। उसने जलालाबाद के पैंसिया सीनियर सेकेंडरी स्कूल से 12वीं की थी। 2016 में वह पंजाब पुलिस कमांडो में भर्ती हुआ।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios