Asianet News Hindi

मां को देखते ही चहकते हुए दौड़ा मासूम, चंद सेकंड में फट पड़ा मां का कलेजा

एक मां के लिए इससे बड़ी ह्रदयविदारक घटना और क्या हो सकती है कि उसकी आंखों के सामने जिगर के टुकड़े की मौत हो जाए। दिल दहलाने वाला यह मामला जीरकपुर का है। स्कूल बस ने एक डेढ़ साल के मासूम को कुचल दिया। बच्चा अपनी मां को देखकर लपका था, तभी बस ने कुचल दिया।

Two innocent and one woman died in two shocking incident
Author
Zirakpur, First Published Oct 15, 2019, 6:30 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जीरकपुर. एक स्कूल बस मां के सामने उसके डेढ़ साल के बच्चे को कुचलकर चली गई। बच्चा मां को देखकर उसकी ओर भागा था, तभी तेज रफ्तार बस ने उसे अपनी चपेट में ले लिया। घटना बिशनपुरा गांव की है। यहां रहने वालीं रिंपी धीमान सोमवार सुबह घर के सामने दुकान से कुछ सामान लेने गई थीं। उनका डेढ़ साल की बेटा प्रियांश घर के बाहर खेल रहा था। घर और दुकान के बीच में सड़क है। जब मां सामान लेकर लौटने लगी, तो बच्चा उन्हें देखकर चहक उठा। वो मां की ओर दौड़ पड़ा। तभी तेज रफ्तार स्कूल बस ने उसे कुचल दिया। इसके बाद ड्राइवर मौके से भाग निकला। रिंपी ने बताया कि उसकी तीन बेटियां हैं। बेटियों के बाद प्रियांश का जन्म हुआ था। बच्चे को घायल हालत में एक प्राइवेट हॉस्पिटल ले जाया गया था। वहां से पीजीआई रेफर किया गया। लेकिन रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया।

मां-बेटे पर गिर पड़ी छत
नाभा के बांसा स्ट्रीट में एक मकान की छत गिरने से मां-बेटे की मौत हो गई। बताया जाता है कि घर की छत कांग्रेस विधायक काका रणदीप सिंह अपने खेत पर जेसीबी से सफाई करा रहे थे। इसकी जानकारी मोहल्लेवालों को नहीं थी। माना जा रहा है कि जेसीबी की गलती से ही छत गिरी। हादसे के वक्त दीक्षा(30) अपने 6 साल के बेटे पारस के साथ सो रही थी। बेटा दोपहर को स्कूल से लौटा था, इसके बाद मां और बेटे सोने चले गए थे।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios