नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने कुछ समय पहले अपनी एक टिप्प्णी में कहा था कि लोगों को अपने अंतरंग पलों की तस्वीरें नहीं लेनी चाहिए और न ही उन्हें सोशल मीडिया पर शेयर करना चाहिए। टिप्प्णी में कहा गया था कि ऐसा किया जाना मूर्खतापूर्ण है। सुप्रीम कोर्ट को यह टिप्प्णी इसलिए करनी पड़ी कि आजकल ऐसे मामले काफी आ रहे हैं, जिनमें पहले से लिव-इन में रह रहे कपल अंतरंग पलों की अपनी तस्वीरें ले लेते हैं या वीडियो बना लेते हैं, पर बाद में जब किसी वजह से रिश्ता टूटता है तो लड़कियां ये शिकायत करती हैं कि उनका पार्टनर अंतरंग पलों की तस्वीरें और वीडियो सार्वजनिक करने की धमकी देता है। उल्लेखनीय है कि ऐसे कई मामले सामने आ रहे हैं, जहां लिव-इन में रहने वाली लड़कियों ने अपने पार्टनर पर यौन शोषण और बलात्कार के आरोप लगाए, जब उनका रिश्ता टूट गया। जानें, इसमें क्या है खतरा।

1. आपसी सहमित से होता है ऐसा
पार्टनर्स की आपसी सहमति के बगैर न तो अंतरंग पलों की तस्वीर ली जा सकती है और न ही वीडियो बनाए जा सकते हैं। फिर जो लड़की वयस्क हो और अपनी मर्जी से लिव-इन में रह रही हो, क्या वह इसके खतरे को समझने लायक नहीं? गौरतलब है कि इस रिश्ते में रहने वाले पार्टनर को विवाहित लोगों की तरह तरह एक-दूसरे से अलग होने के लिए कोई कानूनी प्रक्रिया अपनाने की जरूरत होती है। यह परस्पर सहमति पर आधारित संबंध है। सहमति खत्म होते ही रिश्ता भी खत्म हो जाता है। इसलिए लिव-इन में रहते हुए कभी भी अंतरंग पलों की तस्वीरें न लें। इनका गलत इस्तेमाल किया जा सकता है और लड़की की जिंदगी नारकीय हो जा सकती है।   

2. गैजैट्स का यूज रिलेशनशिप में मत करें
आजकल लोगों की लाइफस्टाइल पर गैजेट्स का काफी प्रभाव पड़ा है। खासकर यंगस्टर्स में स्मार्टफोन्स का चलन बहुत तेजी से बढ़ा है। लेकिन इनका इस्तेमाल अंतरंग पलों का वीडियो बनाने के लिए न करें। रिश्ते की पवित्रता को समझें। उसका सम्मान करें। उसे नुमाइश की चीज न बनाएं। आज अक्सर प्रेमी जोड़े अपनी ऐसी तस्वीरें खुद खींच लेते हैं, जो काफी इंटिमेट होते हैं। सेलेब्स की लाइफस्टाइल से प्रभावित होकर वे ऐसी तस्वीरें सोशल साइट्स पर शेयर भी कर देते हैं, जिसका खामियाजा उन्हें कभी न कभी भुगतना ही पड़ता है।   

3. बन आती है जान पर
हद तो तब हो जाती है, जब लिव-इन में रहने वाले कपल किसिंग के अलावा संबंध बनाने के दौरान की तस्वीरें ले लेते हैं या वीडियो बना लेते हैं। कई लोगों का कहना है कि ऐसा व्यक्तिगत आनंद के लिए किया जाना गलत नहीं है, पर यह गले की फांस तब बनता है, जब रिलेशनशिप टूटते ही इसका इस्तेमाल एक-दूसरे को बदनाम करने के लिए किया जाने लगता है। ऐसे मामले अब बढ़ते ही जा रहे हैं। विशेषकर, कई बार एन्जॉयमेंट के लिए किए गए ऐसे काम से करियर और लाइफ तक दांव पर लग जाती है। कई बार तो ऐसे मामलों में लड़कियों ने सुसाइड तक कर लिया है।

4. किया जाता है ब्लैकमेल
अक्सर लड़कियां अपने प्रेमियों पर बहुत ज्यादा भरोसा करती हैं। वे सोचती हैं कि उनका प्रेमी हमेशा उनकी भलाई के बारे में ही सोचेगा, पर ये जरूरी नहीं है। किसी पर आंख मूंद कर भरोसा करना भविष्य के लिए खतरा मोल लेना होता है। कई बार लड़कियां भोलेपन में फोन पर अपने बॉयफ्रेंड्स से बहुत-सी अंतरंग बातें करती हैं और उन्हें ये पता नहीं होता कि उनकी ये बातें टैप की जा रही हैं। रिश्ता टूटने पर इन टैप्स का इस्तेमाल लड़कियों को ब्लैकमेल करने के लिए भी किया जा सकता है। अंतरंग तस्वीरों और वीडियो के जरिए लड़कियों को ब्लैकमेल करने की घटनाएं बहुत हो रही हैं।